दिल्ली में बड़े अातंकी हमले की साजिश नाकाम, एक गिरफ्तार

20 0
  • गणतंत्र दिवस के दौरान दिल्ली को दहलाने की रची गई थी साजिश

नई दिल्‍ली। 26 जनवरी के दौरान दिल्ली को दहलाने की साजिश रची गई थी। रविवार रात मथुरा के पास भोपाल शताब्दी से एक संदिग्ध को गिरफ्तार किया गया है। उसकी निशानदेही पर दो लोगों की तलाश में दिल्ली के होटलों में छापेमारी की गई। तफ्तीश में पता चला कि दोनों संदिग्ध एक दिन पहले ही होटल से फरार हो गए हैं। अब दिल्ली पुलिस की स्पेशल सेल, यूपी एटीएस और आईबी दोनों संदिग्धों की तलाश में जुटी हुई हैं। दो संदिग्धों की दिल्ली में मौजूदगी से सुरक्षा एजेंसियों के होश उड़ गए हैं।

बताया जा रहा कि भोपाल शताब्दी से जा रहे एक शख्स की हरकतें टीटी को संदिग्ध लगीं। टीटी ने फौरन जीआरपी को इसकी जानकारी दी। मथुरा के पास जीआरपी ने जब उससे पूछताछ की तो उसने अपना नाम बिलाल अहमद वानी बताया। अनंतनाग निवासी बिलाल ने बताया कि वह और उसके दोस्त दिल्ली में 26 जनवरी के कार्यक्रम और अक्षरधाम मंदिर पर हमला करने की तैयारी कर रहे हैं। ये सुनते ही जीआरपी के होश उड़ गए। उन्होंने फौरन इसकी जानकारी यूपी एटीएस को दी। यूपी एटीएस ने उससे कड़ाई से पूछताछ की तो वह पागलों जैसी हरकतें करने लगा।

बिलाल वानी ने पुलिस को बताया कि वह और उसके दो साथी दिल्ली के जामा मस्जिद के पास होटल अल राशिद में ठहरे थे। वह खुद होटल से निकल गया और उसके दो साथी अब भी होटल में रुके हुए हैं। यह जानकारी मिलते ही यूपी पुलिस ने दिल्ली पुलिस की स्पेशल सेल और आईबी को इसकी जानकारी दी। 26 जनवरी से पहले दिल्ली में आतंकी हमले की जानकारी मिलने से स्पेशल सेल और आईबी की टीम जामा मस्जिद के जमजम गेस्ट हाउस और होटल अल राशिद पर रेड करने पहुंची।

होटल अल रशीद से पता चला कि 2 जनवरी को ये लोग यहां आए थे और 6 जनवरी को रात 8:30 बजे होटल से निकल गए। होटल अल रशीद के मैनेजर ने बताया कि 3 लोग 2 जनवरी को आए। ये लोग दिन में निकल जाते थे और रात को आते थे। कई बार जब रुके रहते थे तो खाना खाने जाते थे। इनसे मिलने होटल में कोई नहीं आया और इनकी गतिविधियां भी सामान्‍य थीं।

होटल के मैनेजर ने बताया कि सबसे आश्चर्यजनक बात यह है कि वे तीन बैग लेकर आए थे और जब गए तो इनके पास सिर्फ दो ही बैग थे। उनमें से एक शख्स 6 तारीख की सुबह 11:00 बजे ही चला गया था, जबकि बाकी के दोनों शख्स शाम को करीब 6:00 बजे होटल से गए।  यूपी एटीएस और दिल्ली पुलिस की स्पेशल सेल ने होटल कर्मचारियों से भी पूछताछ की और उनके कमरे की तलाशी ली। साथ ही पुलिस अपने साथ होटल में लगे सीसीटीवी फुटेज भी अपने साथ ले गई। होटल अल रशीद में ठहरे तीन में दो संदिग्धों के नाम मुदस्सिर अहमद वागय और मोहम्मद अशरफ हैं।

Read More : https://aajtak.intoday.in/story/terrorist-plan-to-attack-akshardham-mandir-delhi-police-ats-1-976119.html

Related Post

जानिए किसके बच्चे पर प्यार लुटा रही हैं कंगना….

Posted by - March 13, 2018 0
नई दिल्ली। बॉलीवुड की जानी मानी एक्ट्रेस कंगना रनौट पिछले साल मौसी बन गई हैं। उनकी बड़ी बहन रंगोली रनौट ने बीते साल नवंबर में बेटे को जन्म दिया था। हाल…

इस्लाम अपनाने वाले ब्राह्मण परिवार का आरोप – पड़ोसी कर रहे हैं उत्पीड़न

Posted by - April 9, 2018 0
आठ साल पहले बांदा जिले के बबेरू कस्‍बे के रहने वाले घनश्‍याम ने किया था धर्म परिवर्तन शिकायत के बाद…

Leave a comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *