एनडी गुप्‍ता की उम्‍मीदवारी बची, आयोग ने खारिज की कांग्रेस की शिकायत

120 0
  • कांग्रेस नेता अजय माकन ने आप के राज्‍यसभा उम्मीदवार पर खड़े किए थे सवाल

नई दिल्ली राज्यसभा के लिए आम आदमी पार्टी की तरफ से अपनी उम्मीदवारी पर सवालों में रहे एनडी गुप्ता को चुनाव आयोग से राहत मिली है। चुनाव आयोग के रिटर्निंग ऑफिसर ने कांग्रेस की शिकायत खारिज कर दी है। इससे एनडी गुप्‍ता के राज्‍यसभा सदस्‍य बनने का रास्‍ता साफ हो गया है।

चुनाव आयोग के फैसले के बाद एनडी गुप्ता ने कहा, ‘मेरे लिए अजय माकन ने अपशब्द कहे और उनको ऐसा नहीं कहना चाहिए था।’ वहीं संजय सिंह ने कहा कि बेबुनियाद शिकायत अजय माकन की ओर से की गई। एनडी गुप्ता किसी भी लाभ के पद पर नहीं थे और यह सब कुछ सस्ती लोकप्रियता के लिए किया गया। इस शिकायत से साबित होता है कि कांग्रेस मानसिक दिवालियापन से गुजर रही है। उन्‍होंने कहा कि कुमार विश्वास से कोई भी बातचीत मीडिया के माध्यम से नहीं की जाएगी, हम उनसे बात करेंगे।

दरअसल कांग्रेस नेता अजय माकन की तरफ़ से लगाए गए आरोपों के बाद रिटर्निंग ऑफिसर ने दो मुद्दों पर एनडी गुप्‍ता से सफाई मांगी थी। गुप्ता से चुनाव आयोग ने पूछा था कि क्या वो नेशनल पेंशन सिस्टम (NPS) ट्रस्ट के ट्रस्टी हैं, जो कि लाभ का पद है। इसके अलावा उनसे ये भी पूछा गया था कि क्‍या वो नेशनल पेंशन सिस्टम ट्रस्ट की ऑडिट कमेटी के चेयरमैन हैं, जिसका कुल फंड क़रीब 1.75 लाख करोड़ रुपये है।

एनडी गुप्ता ने अपने जवाब में कहा – एनपीएस के ट्रस्टी का पद लाभ का पद नहीं है। इस पद से मैंने 29 दिसंबर को इस्तीफ़ा दे दिया था। साथ ही, ऑडिट कमेटी के चेयरमैन का पद ट्रस्टी के नाते ही था, जब उस पद से ही इस्तीफ़ा ही दे दिया तो इस पद का मतलब ही नहीं।’

Read More : https://khabar.ndtv.com/news/india/rajya-sabha-elections-ec-decides-on-aap-candidate-nd-gupta-nomination-1797130

Related Post

राज्यसभा में नहीं पेश हो सका ट्रिपल तलाक बिल, अध्यादेश लाएगी सरकार !

Posted by - August 10, 2018 0
नई दिल्ली। मोदी कैबिनेट की मंज़ूरी के बाद ट्रिपल तलाक बिल को तीन संशोधनों के साथ शुक्रवार को राज्यसभा में पेश…

इस तरह चांद की मदद से हम अपनी धरती का पर्यावरण बचाने में होंगे सफल

Posted by - October 27, 2018 0
लंदन। पर्यावरण को सबसे ज्यादा कार्बन डाइऑक्साइड गैस से खतरा है। बढ़ते कार्बन डाइऑक्साइड से प्रदूषण तो बढ़ ही रहा…

Leave a comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *