लालू को सजा के सदमे से बड़ी बहन गंगोत्री देवी का निधन

41 0

पटना। आरजेडी अध्यक्ष लालू प्रसाद यादव की बड़ी बहन गंगोत्री देवी का रविवार को पटना में आकस्मिक निधन हो गया। उनकी उम्र 75 साल थी। अपने 6 भाइयों में गंगोत्री देवी इकलौती बहन थीं। पिछले कुछ समय से गंगोत्री देवी बीमार चल रही थीं। लालू यादव को हुई सजा को लेकर भी वो काफी दुखी और सदमे में थीं।

बताया जा रहा है कि लालू पर आए सजा के फैसले से उनकी बड़ी बहन गंगोत्री देवी काफी परेशान थीं। निधन की खबर के बाद पूर्व मुख्यमंत्री राबड़ी देवी, पूर्व उपमुख्यमंत्री तेजस्वी यादव और पूर्व मंत्री तेजप्रताप यादव गंगोत्री देवी के वेटनरी कॉलेज स्थित आवास पर पहुंचे। उनका अंतिम संस्कार गोपालगंज में किया जाएगा। तेजस्वी यादव ने कहा कि लालू प्रसाद यादव से सम्पर्क करने की हम कोशिश कर रहे हैं। रांची के होटवार जेल में फोन किया गया था, लेकिन फोन रिसीव नहीं हुआ है। अब उनसे सम्पर्क करने के बाद ही कुछ निर्णय ले सकेंगे।

उधर, बताया जा रहा है कि लालू प्रसाद यादव के वकील उनके पैरोल के लिए कोशिश कर रहे हैं, ताकि वे इकलौती बहन के अंतिम संस्‍कार में शामिल हो सकें। गंगोत्री देवी पटना के वेटनरी कॉलेज स्थित उसी सर्वेंट क्वार्टर में रहतीं थीं, जिसमें 1990 में मुख्‍यमंत्री बनने के बाद रहकर लालू प्रसाद ने छह महीने तक सरकार चलाई थी। गंगोत्री देवी के तीन बेटों में एक की मौत हो चुकी है, जबकि बाकी दो बिहार पुलिस व रेलवे में नौकरी करते हैं।

आपको बता दें कि लालू पर साल 1990 से 1994 के बीच देवघर कोषागार से पशु चारे के नाम पर अवैध ढंग से 89 लाख, 27 हजार रुपये निकालने का आरोप है। इस दौरान लालू यादव बिहार के मुख्यमंत्री थे। हालांकि, ये पूरा चारा घोटाला 950 करोड़ रुपये का है, जिनमें से एक देवघर कोषागार से जुड़ा केस है। इस मामले में कुल 38 लोग आरोपी थे, जिनके खिलाफ सीबीआई ने 27 अक्टूबर, 1997 को मुकदमा दर्ज किया था।

Read More : https://aajtak.intoday.in/story/lalu-yadav-elder-sister-died-in-75-1-976010.html

Related Post

ऑस्ट्रेलिया में स्ट्रॉबेरी से निकल रहीं सिलाई वाली सुइयां, 6 राज्यों में रोकी बिक्री

Posted by - September 20, 2018 0
पुलिस प्रशासन ने स्ट्रॉबेरी से छेड़छाड़ करने वालों पर 51 लाख रुपए का इनाम घोषित किया सिडनी। ऑस्ट्रेलिया में इस वक्त…

वैज्ञानिकों ने विकसित की शरीर में लगने वाली GPS प्रणाली, खोज निकालेगी ट्यूमर

Posted by - August 28, 2018 0
बोस्टन। वैज्ञानिकों को शरीर के भीतर लगने वाली एक वायरलेस जीपीएस प्रणाली विकसित करने में सफलता मिली है, जिसकी मदद से…

Leave a comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *