पुलवामा सीआरपीएफ कैम्प पर फिदायीन हमला, तीन कैप्टन समेत 5 शहीद

199 0
  • जैश-ए-मोहम्मद ने ली हमले की जिम्‍मेदारी, सुरक्षाबलों ने मुठभेड़ में तीन आतंकियों को ढेर किया

श्रीनगरजम्मू कश्मीर के पुलवामा में रविवार को सीआरपीएफ कैंप पर हुए आतंकी हमले में 3  कैप्‍टन और 2 जवान शहीद हो गए। सीआरपीएफ के एडिशनल डीजी ने बताया कि हमारे पास इस बात के इनपुट्स थे कि ऐसा हमला किया जा सकता है। उन्होंने कहा, ‘हमारे जवान तैयार थे, अब तक 3 आतंकवादी मारे गए हैं। ऑपरेशन अभी जारी है। इसे जल्द खत्म किया जाएगा।’ दूसरी तरफ, नौशेरा सेक्टर में पाकिस्तान की तरफ से की गई फायरिंग में एक जवान जगसीर सिंह शहीद हो गए। जम्मू-कश्मीर के डीजीपी एसपी वैद ने कहा – सीआरपीएफ के तीन जवानों को गोलियां लगी हैं। एक शहीद हो गया है। आतंकियों को हम जल्द काबू कर लेंगे।

जैश ने ली हमले की जिम्मेदारी

सीआरपीएफ के प्रवक्‍ता राजेंद्र यादव ने कहा, ‘इस हमले की जिम्मेदारी जैश-ए-मोहम्मद ने ली है। ऐसा पहली बार हुआ है, जब लोकल टेररिस्ट्स ने सुसाइड अटैक को अंजाम दिया है। हमने दो आतंकियों को मार गिराया, उनकी बॉडी और हथियार बरामद किए गए हैं। हमें उम्मीद है कि एक और आतंकी एनकाउंटर में मारा गया है, लेकिन उसकी बॉडी अभी रिकवर नहीं हो पाई है।’ बताया जा रहा कि शनिवार-रविवार की दरमियानी रात अचानक कुछ आतंकी पुलवामा में सीआरपीएफ की 185वीं बटालियन के कैंप में घुस गए। इन लोगों ने वहां फायरिंग शुरू कर दी।

फिदायीन हमले में शहीद होने वालों में सीआरपीएफ के कैप्टन शरीफुद्दीन गनेई, कैप्टन राजेंद्र नैन, कैप्टन प्रदीप कुमार पांडा, इंस्पेक्टर कुलदीप रॉय, हेड कॉन्स्टेबल तुफैल अहमद शामिल हैं। पुलवामा एनकाउंटर में दो टेररिस्ट मारे गए हैं। इनकी पहचान पुलवामा के मंजूर अहमद बाबा और त्राल के फरदीन अहदम खानडे के तौर पर की गई है।

इस साल 2 बड़े हमले हुए

घाटी में 182 बटालियन बीएसएफ कैम्प पर अक्टूबर 2017 में फिदायीन हमला हुआ था। सिक्युरिटी फोर्स की कार्रवाई में सभी 3 आतंकी मारे गए थे। हालांकि, एक जवान भी शहीद हो गया था। तब जैश-ए-मोहम्मद ने हमले की जिम्मेदारी ली थी। इसके पहले जून 2017 में सीआरपीएफ के काफिले पर लश्कर-ए-तैयबा के आतंकियों ने हमला किया था। इसमें एक सब इंस्पेक्टर शहीद हो गया था। वहीं, दो जवान भी जख्मी हुए थे। गाड़ी पर फायरिंग करने के बाद आतंकी पास के एक स्कूल में छिप गए थे। कुछ देर बाद आर्मी ने मोर्चा संभाला था और स्कूल में छिपे सभी आतंकियों को मार गिराया गया था।

Read More : https://www.bhaskar.com/indian-national-news-in-hindi/news/NAN-HDLN-terrorists-attack-crpf-camp-in-pulwamajammu-and-kashmir-3-jawans-injured-5781366-PHO.html

Related Post

इस उम्र में मां बनने वाली महिलाओं का होता है सक्सेसफुल करियर, लाइफ में कमाती हैं खूब पैसा

Posted by - October 6, 2018 0
वाशिंगटन । मां बनने के एहसास से बेहतर इस दुनिया में कोई एहसास नहीं है, लेकिन मां बनने को लेकर…

असम के बाद अब झारखंड और यूपी में पाक और बांग्लादेशी घुसपैठियों की होगी पहचान

Posted by - August 13, 2018 0
रांची/मेरठ। असम में राष्ट्रीय नागरिकता रजिस्टर यानी एनआरसी बनने और 40 लाख लोगों के इस रजिस्टर में शामिल न होने…

Leave a comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *