मेरठ में बिल्डर के ऑफिस से 25 करोड़ की पुरानी करेंसी बरामद

39 0
  • पुलिस का दावा नोटबंदी के बाद से अब तक की यह सबसे बड़ी रिकवरी

मेरठनोटबंदी को एक साल से ऊपर हो गए, मगर अब भी पुराने नोटों का मिलना जारी है। नोटबंदी के 13 महीने बाद मेरठ पुलिस को एक बड़ी कामयाबी हाथ लगी है। मेरठ पुलिस ने शुक्रवार को कंकरखेड़ा थानाक्षेत्र के राजकमल एन्क्लेव में एक प्रॉपर्टी डीलर के दफ्तर में छापा मारा और वहां से 1000 और 500 रुपये के लगभग 25 करोड़ रुपये की पुरानी करेंसी बरामद की। पुलिस ने मौके से चार लोगों को गिरफ्तार किया है। प्रॉपर्टी डीलर फरार है।

एसपी (सिटी) मान सिंह चौहान ने बताया कि पुलिस को सूचना मिली थी कि दिल्ली के एक व्यक्ति के जरिए कमीशन पर पुराने नोट बदलने का सौदा किया जा रहा है। पुलिस पिछले 10 दिन से इंटरसेक्शन सर्विलांस और अन्य माध्यम से इस पर नजर बनाए हुए थी। उन्होंने बताया कि शुक्रवार की दोपहर में सटीक सूचना पर कंकरखेड़ा इंस्पेक्टर दीपक शर्मा ने दिल्ली रोड पर राजकमल एन्क्लेव में मंदिर के सामने स्थित प्रॉपर्टी डीलर संजीव मित्तल के कार्यालय पर छापा मारा। छापे में ऑफिस के भीतर प्लास्टिक के 10 बैग में तकरीबन 25 करोड़ रुपये की पुरानी करेंसी (1000-500 रुपये के नोट) बरामद हुई।

पुलिस ने सौदा कराने वाले दिल्ली के व्यक्ति सहित चार आरोपियों को मौके से गिरफ्तार किया है। पुलिस का दावा है कि नोटबंदी के बाद से अब तक की यह सबसे बड़ी रिकवरी है। एसएसपी मंजिल सैनी ने बताया कि चार लोगों को गिरफ्तार कर लिया गया है और उनसे पूछताछ चल रही है। एसएसपी ने कहा कि पूछताछ के बाद आरोपियों के खिलाफ कड़ी कार्रवाई की जाएगी। फिलहाल पुलिस संजीव के सभी ठिकानों पर छापेमारी कर जांच कर रही है।

Read More : https://khabar.ndtv.com/news/crime/police-recovers-25-crore-old-notes-in-meerut-in-raid-1793694

Related Post

शोध : नौकरी में प्रमोशन का कोई सटीक फॉर्मूला नहीं, लेकिन बुद्धिमानी का है अहम रोल

Posted by - November 19, 2018 0
ब्रिस्टल। अक्‍सर नौकरी पेशा लोगों को उनकी मेहनत, प्रतिभा और वरिष्‍ठता के बावजूद मनचाहा प्रमोशन नहीं मिलता। ऐसे लोग हमेशा…

सामाजिक-मानसिक लर्निंग से बच्चों में आती है खुद की ताकत पहचानने की क्षमता

Posted by - December 9, 2018 0
  लखनऊ। प्राइमरी स्कूलों को स्टैंडराइज्ड करने से ही बेसिक शिक्षा में बदलाव आ सकता है। एक्टिविटी बेस्ड और रूचिपूरक…

Leave a comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *