जेटली की सफाई के बाद संसद में मनमोहन पर गतिरोध खत्म

37 0
  • वित्‍त मंत्री बोले – प्रधानमंत्री मोदी ने पूर्व पीएम मनमोहन की निष्‍ठा पर कभी सवाल नहीं उठाया

नई दिल्‍ली। संसद का शीतकालीन सत्र जारी है और इसके साथ ही हंगामा भी। हालांकि, अब यह हंगामा खत्म होने के आसार हैं। संसद के गतिरोध को खत्म करने के लिए वित्त मंत्री अरुण जेटली ने बुधवार को सरकार की तरफ से राज्यसभा में सफाई दी। जेटली ने पीएम मोदी द्वारा मनमोहन सिंह पर दिए बयान को लेकर कहा कि पीएम मोदी ने पूर्व पीएम पर सवाल नहीं उठाया। अगर उनके बयान को लेकर ऐसा समझा जा रहा है तो गलत है।

बता दें कि संसद के शीत सत्र के पहले दिन से पीएम मोदी के बयान को लेकर विपक्ष लगातार हंगामा करते हुए पीएम मोदी से माफी की मांग कर रहा है। इसके बाद वित्त मंत्री अरुण जेटली ने बुधवार को राज्यसभा में सरकार का पक्ष रखा। वित्त मंत्री ने कहा, ‘पीएम मोदी ने अपने भाषणों में न तो पूर्व पीएम मनमोहन सिंह और ना ही पूर्व उपराष्ट्रपति हामिद अंसारी के देश के प्रति प्रतिबद्धता पर कोई सवाल उठाए हैं। इस तरह की कोई भी सोच गलत है। हम इन लीडर्स और देश के प्रति उनके योगदान और त्याग को उच्च सम्मान देते हैं।’

हेगड़ के बयान पर बवाल

वहीं दूसरी तरफ संसद में अनंत हेगड़े द्वारा संविधान को लेकर दिए बयान पर जमकर हंगामा जारी है और विपक्ष ने उनकी बर्खास्तगी की मांग की है। राज्यसभा में विपक्ष ने अनंत कुमार हेगड़े के संविधान बदलने वाले बयान पर हंगामा किया। इससे पहले कांग्रेस ने लोकसभा में अनंत कुमार हेगड़े के बयान को लेकर स्थगन प्रस्ताव दिया। उधर नियम 267 के तहत कांग्रेस ने राज्य सभा में कार्यवाही रोकने का नोटिस भी दिया है। मीडिया से बात करते हुए राज्यसभा में कांग्रेस के नेता गुलाम नबी आजाद ने कहा कि अगर एक मंत्री को संविधान पर भरोसा नहीं तो उन्हें अपने पद पर रहने का अधिकार नहीं है। हेगड़े सदन में आएं और माफी मांगें।

कुलभूषण मुद्दे पर सुषमा रखेंगी सरकार का पक्ष

इस बीच लोकसभा में बुधवार को कुलभूषण जाधव का मुद्दा उठा। विपक्ष ने सरकार से इस मुद्दे पर जवाब मांगा। विपक्ष के नेता मल्लिकार्जुन खड़गे ने कहा कि जिस तरह पाकिस्तान ने कुलभूषण की मां और पत्नी के साथ व्यवहार किया, उसकी हम निंदा करते हैं। सरकार कुलभूषण को जल्द भारत लाए। इसके बाद विदेश मंत्री सुषमा स्वराज ने कहा कि वो गुरुवार को 12 बजे लोकसभा में जाधव मामले में सरकार का पक्ष रखेंगी।

गुरुवार को पेश होगा तीन तलाक पर विधेयक

जानकारी मिल रही है कि मुस्लिमों में एक ही बार में तीन तलाक कहने की प्रथा को आपराधिक बनाने वाला विधेयक लोकसभा में गुरुवार को पेश किया जाएगा। इसके लिए भाजपा ने कमर कस ली है। भाजपा ने व्हिप जारी करके लोकसभी सांसदों को गुरुवार और शुक्रवार को संसद में उपस्थित रहने को कहा है। भाजपा संसदीय दल की बैठक गुरुवार को सुबह 9:30 बजे होगी। इस बीच अनंत कुमार ने तीन तलाक के बिल पर सभी पार्टियों से विनम्र निवेदन किया है। उन्‍होंने कहा है कि हम सभी विपक्षी दलों से अपील करते हैं कि तीन तलाक पर बिल को पास करने में मदद करें।

Read More : https://naidunia.jagran.com/national/congress-creates-ruckus-in-lok-sabha-and-rajaya-sabha-over-manmohan-and-anant-hegde-1473034

Related Post

Leave a comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *