हंगामे के कारण संसद में नहीं हो सका सचिन का ‘डेब्यू’ भाषण

61 0
  • विपक्ष के जोरदार हंगामे के कारण राज्यसभा की कार्यवाही पूरे दिन के लिए स्थगित हुई

नई दिल्‍ली। पूर्व क्रिकेट खिलाड़ी और राज्यसभा सांसद सचिन तेंदुलकर ने गुरुवार को संसद में पहली बार बहस में हिस्सा लिया, लेकिन सचिन का ये डेब्यू अच्छा नहीं रहा। विपक्ष के हंगामे के कारण वह अपनी बात ही नहीं रख पाए। विपक्ष के जोरदार हंगामे के कारण राज्यसभा की कार्यवाही को अगले दिन तक स्थगित कर दिया गया है।

2012 में सांसद मनोनीत होने के बाद सचिन का राज्यसभा में ये पहला भाषण था। सचिन अपने भाषण की शुरुआत करने ही वाले थे कि विपक्ष ने हंगामा शुरू कर दिया। विपक्ष लगातार मनमोहन सिंह के मुद्दे पर हंगामा कर रहा है। सचिन तेंदुलकर अपनी पत्नी अंजलि के साथ राज्यसभा पहुंचे थे। हंगामे के बीच सभापति वेंकैया नायडू ने लगातार विपक्ष से अपील की – ‘जो व्यक्ति बोल रहा है वह भारत रत्न है, इसे पूरा देश देख रहा है। प्लीज़ शांत हो जाइए।’ गौरतलब है कि इससे पहले राज्यसभा में सचिन की गैर मौजूदगी पर भी सवाल उठते रहे हैं।

जया बच्‍चन ने कांग्रेस पर उठाए सवाल

समाजवादी पार्टी की नेता जया बच्चन ने सचिन के भाषण के दौरान कांग्रेस के रवैये पर सवाल उठाए। उन्होंने कहा – ‘जिसने देश का नाम कमाया, उसे ही बोलने नहीं दिया गया। क्या स्पोर्ट्सपर्सन और आर्टिस्ट को सदन में बोलने नहीं दिया जाएगा? मुझे ऐसा लगता है कि सचिन इसको लेकर अपसेट हैं, कांग्रेस को सचिन को सदन में बोलने देना चाहिए था।’

किस मुद्दे पर था भाषण

बहस के दौरान सचिन देश में खेल और खिलाड़ियों को लेकर व्यवस्था, ओलंपिक की तैयारियों और किस तरह भारतीय खिलाड़ी दुनियाभर में अच्छा प्रदर्शन कर सकते हैं, इस पर अपने विचार रखने वाले थे। इसके अलावा सचिन इस बात पर भी अपनी आवाज़ उठानी थी कि जो खिलाड़ी देश के लिए मेडल जीतते हैं, उन्हें रिटायरमेंट के बाद काफी कम पैसा मिलता है। सचिन को स्कूली शिक्षा में खेल को एक सिलेबस के तौर पर पेश किए जाने की भी बात करनी थी।

Read More : https://aajtak.intoday.in/story/sachin-tendulkar-rajyasabha-speech-right-to-play-tspo-1-972640.html

Related Post

बुजुर्ग कहते हैं – प्रेग्नेंसी में दो लोगों के बराबर खाना चाहिए, स्टडी ने साबित किया इसे गलत

Posted by - October 8, 2018 0
हॉक-कॉग। आपने आजतक बड़े बुजुर्गों को यही कहते सुना होगा कि प्रेग्रेंसी के दौरान माता को दो लोगों के बराबर…

कश्मीर के हंदवाड़ा में मुठभेड़ में लश्कर के 3 आतंकी मार गिराए

Posted by - November 21, 2017 0
श्रीनगर. जम्मू-कश्मीर के हंदवाड़ा में सिक्युरिटी फोर्स ने एनकाउंटर में लश्कर-ए-तैयबा के 3 आतंकियों को मार गिराया है। तीनों आतंकी पाकिस्तान…

असम के बाद अब झारखंड और यूपी में पाक और बांग्लादेशी घुसपैठियों की होगी पहचान

Posted by - August 13, 2018 0
रांची/मेरठ। असम में राष्ट्रीय नागरिकता रजिस्टर यानी एनआरसी बनने और 40 लाख लोगों के इस रजिस्टर में शामिल न होने…

Leave a comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *