दिल्‍ली में ट्रायल के दौरान दीवार तोड़कर निकली ड्राइवरलेस मेट्रो

20 0
  • 25 दिसंबर को प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी इस मजेंटा लाइन का करने वाले हैं उद्घाटन

नई दिल्ली। दिल्ली मेट्रो की मजेंटा लाइन पर मंगलवार को ट्रायल के दौरान स्वचालित मेट्रो ट्रेन कालिंदी कुंज डिपो की दीवार तोड़कर बाहर निकल गई। हादसे के कारण डिपो की शेड व पानी की पाइपलाइन समेत कई चीजें टूट गई हैं। 25 दिसंबर को प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी इस मजेंटा लाइन का उद्घाटन करने वाले हैं। हादसे की वजह से उद्घाटन कार्यक्रम लटक सकता है। मामले की जांच के लिए दिल्ली मेट्रो रेल निगम (डीएमआरसी) की ओर से तीन सदस्यीय उच्चस्तरीय कमेटी का गठन किया गया है। कमेटी में एग्जिक्यूटिव डायरेक्टर रोलिंग स्टॉक (प्रोजेक्ट), एग्जिक्यूटिव डायरेक्टर रोलिंग स्टॉक (ओ एंड एम) और एग्जिक्यूटिव डायरेक्टर (ऑपरेशन) शामिल हैं।

मंगलवार दोपहर 3.40 बजे मेट्रो के कालिंदी कुंज डिपो की सीमेंटेड सेग्मेंट वाली दीवार अचानक तेज धमाके के साथ नाले में ढह गई। शोर सुनकर लोग वहां पहुंचे तो देखा कि मेट्रो ट्रेन का एक डिब्बा नाले की ओर लटक रहा था। हादसे में मेट्रो के चालक वाले कोच को काफी नुकसान पहुंचा है। हादसे की सूचना पाकर मेट्रो के वरिष्ठ अधिकारी आनन-फानन मौके पर पहुंच गए।

ब्रेक सिस्टम की जांच नहीं की गई थी

डीएमआरसी के आधिकारिक बयान में कहा गया है कि हादसा उस वक्त हुआ जब डिपो के वर्कशॉप में वॉशिग रैंप पर धुलाई के लिए स्वचालित ट्रेन को ले जाया जा रहा था, लेकिन इसके ब्रेक सिस्टम की जांच नहीं की गई थी। इस कारण ढलान पर ट्रेन पीछे की ओर चल पड़ी और डिपो की चारदीवारी को तोड़ते हुए बाहर निकल गई। वर्कशॉप में ले जाते ही ट्रेन के ब्रेक को फ्री कर दिया जाता है। ट्रेन को डिपो से निकालते समय मेंटेनेंस स्टाफ द्वारा इसकी फिर से जांच की जाती है। वर्कशॉप में ट्रेन का मूवमेंट सिग्नलिंग सिस्टम से नहीं बल्कि मैनुअल होता है। शुरुआती जांच से लग रहा है कि मेंटेनेंस स्टाफ से ट्रेन का चार्ज लेने वाले व्यक्ति ने बिना ब्रेक की जांच किए ही इसे वॉशिग रैंप पर चढ़ाने का प्रयास किया। प्रथम दृष्टया यह मानवीय भूल लग रही है, जो भी दोषी मिला, कार्रवाई की जाएगी।

Read More : https://www.jagran.com/delhi/new-delhi-city-driver-less-metro-accident-on-trail-run-in-delhi-17227327.html

Related Post

Leave a comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *