चीन में हजारों लोगों के सामने 10 लोगों को दी गई फांसी

76 0
  • 10 दोषियों में से 7 पर ड्रग्स की तस्करी व बिक्री और 3 अन्य पर हत्या और डकैती के केस थे

बीजिंग। चीन में हजारों लोगों से खचाखच भरे एक स्टेडियम में 10 लोगों को फांसी पर लटकाने का सनसनीखेज मामला सामने आया है। सार्वजनिक तौर पर फांसी पर लटकाए गए 10 दोषियों में से 7 पर ड्रग्स की तस्करी व बिक्री जैसे मामले थे, वहीं 3 अन्य पर हत्या और डकैती के केस थे। मीडिया रिपोर्ट्स के अनुसार, ये पूरा मामला दक्षिणी चीन के गुआंगडोंग प्रांत का है। अदालत ने इन 10 लोगों को गंभीर अपराधों के मामले में दोषी करार दिया था और फांसी की सजा सुनाई थी। इसके बाद सरेआम फांसी देखने के लिए हजारों लोगों को आमंत्रण भेजा गया।

खबर के मुताबिक, सरेआम फांसी देखने के लिए हजारों लोगों को आमंत्रण दिया गया था। स्थानीय लोगों को दिया गया ये निमंत्रण फांसी के चार दिन पहले सोशल मीडिया के जरिए भेजा गया था। इसके बाद स्पोर्ट्स स्टेडियम में हजारों लोग एकत्रित हुए थे। इन 10 लोगों को पुलिस के ट्रकों में लाया गया। हर अपराधी चश्मा पहने चार पुलिस अफसरों के साथ था। स्टेडियम में बैठे लोगों ने इस घटना को कैमरे में कैद कर लिया जिसके बाद यह वीडियो सोशल मीडिया में भी वायरल होने लगा है।

चीन में हर वर्ष दुनिया के अन्य देशों के मुकाबले ज्यादा लोगों को फांसी की सजा दी है। हालांकि इसके आधिकारिक आंकड़े नहीं हैं, लेकिन अमेरिका के एक एनजीओ के मुताबिक पिछले साल चीन में लगभग 2000 लोगों को मौत की सजा दी गई। चीन में गैर-हिंसक अपराधों जैसे नशीली दवाओं की तस्करी और आर्थिक अपराधों के लिए भी मौत की सजा दी जाती है।

Read More : https://www.livehindustan.com/international/story-thousands-watch-at-china-sports-stadium-as-10-people-sentenced-to-death-1704854.html

Related Post

युवती को अगवा कर दो दिन तक किया गैंगरेप, फिर चलती ट्रेन से फेंका

Posted by - April 25, 2018 0
महराजगंज जिले के पुरंदरपुर क्षेत्र की घटना, क्षेत्र में 10 दिन में बलात्‍कार की चौथी वारदात शिवरतन कुमार गुप्ता ‘राज़’…

केंद्र सरकार में नौकरियों का टोटा, लेकिन सैलरी पर लगातार बढ़ रहा है खर्च

Posted by - September 10, 2018 0
नई दिल्ली। केंद्र सरकार में नौकरियों की कमी है। भर्तियां हो नहीं रही हैं, लेकिन आपको जानकर हैरत होगी कि…

Leave a comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *