Warning: Cannot assign an empty string to a string offset in /var/www/the2ishindi.com/public/wp-includes/class.wp-scripts.php on line 426

Warning: Cannot assign an empty string to a string offset in /var/www/the2ishindi.com/public/wp-includes/class.wp-scripts.php on line 426

Warning: Cannot assign an empty string to a string offset in /var/www/the2ishindi.com/public/wp-includes/class.wp-scripts.php on line 426

Warning: Cannot assign an empty string to a string offset in /var/www/the2ishindi.com/public/wp-includes/class.wp-scripts.php on line 426

Warning: Cannot assign an empty string to a string offset in /var/www/the2ishindi.com/public/wp-includes/class.wp-scripts.php on line 426

मुख्यमंत्री के शहर में नवजातों को दी जा रही जानलेवा दवा

65 0
  • गोरखपुर के सरकारी अस्पताल में की जा रही सप्‍लाई, नगर विधायक डॉ. आरएमडी ने पकड़ी लापरवाही

गोरखपुर। मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ के जिले में स्वास्थ्य महकमा नवजात व बच्चों के स्वास्थ्य संग खिलवाड़ कर रहा है। ऐसी दवाइयां बच्चों को दे दी जा रही हैं, जो प्रतिबंधित तो हैं ही, मासूमों के लिए जानलेवा साबित हो सकती हैं। शुक्र है गोरखपुर शहर के विधायक और पेशे से डॉक्टर राधामोहन दास अग्रवाल की नजर इस लापरवाही की ओर चली गई। उन्होंने तत्काल जिम्मेदारों से बात की। इस मामले में नाराजगी जताते हुए तुरंत इस दवा के इस्तेमाल नहीं करने का निर्देश दिया। इस बाबत उन्होंने सूबे के स्वास्थ्य मंत्री से भी बात की।

हुआ यह कि नगर विधायक डॉ. आरएमडी अग्रवाल गुरुवार को जिला महिला अस्पताल में मिशन इंद्रधनुष की शुरुआत करने गए थे। योजना का शुभारंभ करने की औपचारिकता पूरी कराने के बाद डॉ. अग्रवाल अस्पताल का निरीक्षण करने पहुँच गए। अपने निरीक्षण के दौरान वह मरीजों व उनके परिवारीजनों से भी जानकारी हासिल कर रहे थे। इसी बीच एक प्रसूता ने अपने नवजात की आंखों को दिखाते हुए दवाई देने के बाद नहीं ठीक होने की शिकायत की। यह भी बताया कि डॉक्टर की लिखी हुई दवाई बाहर से मंगानी पड़ रही। जब महिला ने दवा दिखाई तो नगर विधायक, जो खुद भी चिकित्सक हैं, अवाक् रह गए।

नगर विधायक ने तत्काल प्रमुख चिकित्सा अधीक्षक डॉ. दिनेश सोनकर को तलब किया। विधायक ने उनसे क्लोरमफेनिकाल आईड्राप के बारे में पूछा। एसआईसी ने बताया कि अस्पताल में यह दवा मौजूद है, साथ ही दवाइयों की सूची में भी यह दर्ज है। तुरंत दवाइयों की लिस्ट तलब की गई। सूची में नाम होने पर नगर विधायक सोच में पड़ गए। उन्होंने बताया कि क्लोरमफेनिकाल आईड्राप दो साल से कम उम्र के बच्चों को देना जानलेवा साबित हो सकता है। हैरान विधायक ने तत्काल ही स्वास्थ्य मंत्री सिद्धार्थनाथ सिंह को यह बात बताई। उन्‍होंने इस पर आपत्ति दर्ज कराते हुए तत्काल इस दवाई के प्रयोग को प्रतिबंधित करने और इसकी आपूर्ति का ऑर्डर देने वालों के खिलाफ कार्रवाई की मांग की है।

Related Post

Leave a comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *