ईडी ने पटना में लालू परिवार की 3 एकड़ जमीन अटैच की

23 0
  • आईआरसीटीसी होटल घोटाला : 45 करोड़ रुपये की इस जमीन पर बनाया जा रहा था माल

आईआरसीटीसी होटल घोटाले के मामले में लालू परिवार के खिलाफ प्रवर्तन निदेशालय (ED) ने बड़ी कार्रवाई करते हुए पटना में उनकी तीन एकड़ जमीन अटैच कर दी. लगभग 45 करोड़ रुपये की पटना की इसी जमीन पर मशहूर माल बनाया जा रहा था.

यह जमीन राबड़ी और तेजस्वी समेत लालू के परिजनों के नाम पर है. आरोप है कि यह जमीन लालू परिवार को लीज पर होटल देने के बदले मिली थी. इस जमीन की पहले मालिक लीज पर होटल लेने वाली कंपनी ही थी. बाद में यह जमीन सरला गुप्ता के नाम पर आई और फिर लालू परिवार के पास.  इसके पहले इस घोटाले के मामले में लालू और उनके रिश्तेदारों के ठिकानों पर सीबीआई ने छापेमारी की थी. सीबीआई ने समेत कई अन्य लोगों के 12 से अधिक ठिकानों पर छापेमारी की थी.

क्या है पूरा मामला:

लालू पर आरोप है कि रेलमंत्री रहने के दौरान उन्होंने रांची और पुरी समेत अन्य रेलवे होटलों के विकास और मरम्मत का ठेका निजी कंपनियों को दिया था. दरअसल, रांची और पुरी के चाणक्य बीएनआर होटल रेलवे के हेरिटेज होटल थे. लालू यादव ने रेल मंत्री रहते हुए इन होटलों को अपने करीबियों को लीज पर बेच डाला था. ये दोनों होटल अंग्रेजों के जमाने के थे, इसीलिए इसका ऐतिहासिक महत्व था. पर अब नहीं रहा क्योंकि इन होटल्स को पूरा रेनोवेटेड कर दिया गया है. लालू प्रसाद एवं उनके परिवार के खिलाफ एक हजार करोड़ की बेनामी संपत्ति का मामला रांची और पुरी से जुड़ा हुआ है.

Related Post

दूसरी शादी का विरोध करने पर टीआरएस नेता ने पहली पत्नी को पीटा, वीडियो वायरल

Posted by - November 20, 2017 0
तेलंगाना में सत्ताधारी टीआरएस नेता का एक शर्मानाक वीडियो सामने आया है, जिसमें वह दूसरी शादी का विरोध करने पर…

भारत में दो से ज्यादा बच्चे पैदा करना हो सकता है अपराध, 125 सांसदों ने तैयार किया ड्राफ्ट

Posted by - August 13, 2018 0
नई दिल्ली। अब देश में जनसंख्या को नियंत्रित करने की मांग जोर पकड़ने लगी है। 125 सांसदों ने मांग की है…

बिना ड्राइवर चलने वाली गाड़ियों पर उठे सवाल, अमेरिका में एक की गई जान

Posted by - March 20, 2018 0
फीनिक्स। गूगल समेत कई कंपनियां काफी समय से बिना ड्राइवर की अपने आप चलने वाली गाड़ियों का परीक्षण कर रही…

Leave a comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *