अहमद पटेल के करीबियों के ठिकानों पर ईडी ने मारे छापे

90 0
  •     5000 करोड़ के मनी लॉन्ड्रिंग केस में कांग्रेस के दिग्गज नेता के करीबियों पर हुई छापेमारी 

नई दिल्ली : 5000 करोड़ रुपयों के मनी लॉन्ड्रिंग केस में कांग्रेस के दिग्गज नेता और कांग्रेस अध्यक्ष सोनिया गांधी के राजनीतिक सलाहकार अहमद पटेल के करीबियों के ठिकानों पर छापेमारी चल रही है। प्रवर्तन निदेशालय पूरी राजधानी में छापेमारी कर रहा है। ईडी के अधिकारियों ने बताया कि कांग्रेस नेता अहमद पटेल के नजदीकी संजीव महाजन के घर और अन्य ठिकानों पर छापे मारे गए। इसके अलावा, इस केस में आरोपी अन्य कारोबारियों के

5000 करोड़ रुपये के इस मनी लॉन्ड्रिंग केस से राजधानी के संदेसारा ग्रुप ऑऱ कंपनीज का नाम जुड़ा है। बता दें कि करीब एक महीने पहले इस केस में गगन धवन नाम के एक बड़े बिजनसमैन को गिरफ्तार किया गया था। ईडी के प्रवक्ता ने जानकारी दी कि महाजन के दिल्ली के मयूर विहार फेज 1 और बाबर रोड स्थित ठिकानों पर छापेमारी गई। इसके अलावा, द्वारका में घनश्याम पांडे, लक्ष्मीनगर में लक्ष्मी चंद गुप्ता और गाजियाबाद के अरविंद गुप्ता के ठिकानों पर छापे मारे गए। इन तीनों का संबंध संदेसारा ग्रुप से है। इस ग्रुप का मालिकाना हक चेतन और नितिन संदेसारा के पास है।

इस छापेमारी पर प्रतिक्रिया देते हुए अहमद पटेल ने कहा है कि जिन लोगों के ठिकानों पर छापे मारे गए हैं, उनमें से वह किसी को नहीं जानते, सिवाय संजीव महाजन के जिनका उनके घर आना-जाना है।ईडी के सूत्रों ने बताया कि ये छापे 5,383 करोड़ रुपयों के मनी लॉन्ड्रिंग केस में डाले गए, जिसमें संदेसरा ग्रुप पर आरोप है। ऐसा संदेह है कि संदेसरा ग्रुप के मालिकों के नाम 300 बेनामी संपत्तियां हैं। बता दें कि अहमद पटेल गुजरात से राज्य सभा सदस्य हैं और साथ ही कांग्रेस सुप्रीमो सोनिया गांधी के राजनीतिक सचिव भी हैं।

Related Post

SBI की नई सेवा : अब जब चाहें अपने स्‍मार्टफोन से ऑन-ऑफ करें एटीएम कार्ड

Posted by - March 17, 2018 0
स्‍टेट बैंक ऑफ इंडिया ने अपने ग्राहकों की सुविधा के लिए लांच किया ‘एसबीआई क्विक’ ऐप नई दिल्‍ली। देश के सबसे…

फिलीपींस में समुद्र के किनारे मिला 20 फीट लंबा रहस्यमय जीव

Posted by - May 17, 2018 0
इस दैत्‍याकार जीव की पहचान के लिए कराया जा रहा DNA टेस्‍ट, फिशरी डिपार्टमेंट ने लिये सैंपल  लुजोन। फिलीपींस के ओरिएन्टल…

Leave a comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *