भाजपा नेता अमू बोले – अब मेरा सपना लाल चौक पर फारुक अब्दुल्ला को मारूं थप्पड़

27 0
  • दीपिका के सिर पर 10 करोड़ का इनाम रखने वाले बीजेपी नेता सूरजपाल अमू ने दिया पद से इस्तीफा

चंडीगढ़। फिल्म पद्मावती विवाद में अभिनेत्री दीपिका की गर्दन काटने की धमकी देने वाले भाजपा नेता सूरजपाल अमू ने पार्टी में अपना पद छोड़ दिया है। वे भाजपा की हरियाणा इकाई के मुख्य मीडिया को-आर्डिनेटर थे। इसके बाद सूरजपाल अमू ने बुधवार को एक और नया विवादित बयान दिया है। उन्होंने कहा है कि अब उनका सपना है कि वे फारुक अब्दुल्ला को लाल चौक पर थप्पड़ मारें। उन्होंने अब्दुल्ला को चुनौती दी कि वे उनसे लाल चौक पर मिलें।

पिछले दिनों अमू उस समय अचानक चर्चा में आए थे जब संजय लीला भंसाली की फिल्म ‘पद्मावती’ को लेकर जारी विवाद में कूद गए और दीपिका पादुकोण की गर्दन काट कर लाने वाले को 10 करोड़ रुपये इनाम देने की घोषणा कर दी। अमू ने निर्माता संजय लीला भंसाली एवं अभिनेता रणवीर सिंह के खिलाफ भी आपत्तिजनक भाषा का प्रयोग किया था। जब पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी ने फिल्म पद्मावती का समर्थन किया तो उन्हें सूरजपाल ने सूर्पनखा कहा और धमकियां दीं।

दरअसल, सूरजपाल मुख्यमंत्री मनोहर लाल खट्टर से नाराज थे, इसीलिए उन्‍होंने इस्‍तीफा दिया। राजपूत समाज के लोग फिल्म पद्मावती को लेकर मुख्यमंत्री खट्टर से मिलने गए थे, लेकिन खट्टर उनसे नहीं मिले। सूरजपाल इसी बात से नाराज थे। सूरजपाल ने पार्टी पद छोड़ने के साथ हरियाणा के मुख्यमंत्री मनोहर लाल खट्टर पर निशाना साधा है। उन्होंने कहा, ‘मैंने भारी मन से अपना पद छोड़ा है। मैं हरियाणा के मुख्यमंत्री के व्यवहार से दुखी हूं।’ सूरजपाल ने कहा कि मैंने इतना अहंकारी भाजपा के किसी मुख्यमंत्री को नहीं देखा, जो पार्टी कार्यकर्ताओं का और समुदाय के प्रतिनिधि का सम्मान नहीं करता हो।

Read More : https://www.prabhatkhabar.com/news/other-state/padmavati-controversy-surajpal-amu-bhartiya-janta-party-haryana-manohar-lal-khattar/1091189.html

Related Post

…तो कोहली के कारण चीफ सेलेक्टर पद से हटाए गए थे वेंगसरकर

Posted by - March 9, 2018 0
भारतीय टीम के पूर्व कप्‍तान दिलीप वेंगसरकर ने एक कार्यक्रम में किया खुलासा नई दिल्ली। भारतीय टीम के पूर्व कप्तान और…

गुजरात सरकार की अभिनव योजना, कुपोषण दूर करने के लिए बच्चों में बांट रही “बालभोग”

Posted by - October 2, 2018 0
गांधीनगर। गुजरात सरकार ने 6 से 35 महीनों के बच्चों को बालभोग मुहैया करना शुरू किया है। इसमें कई पौष्टिक…

Leave a comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *