20 साल में 7 पतियों की हत्‍या करने वाली को सजा-ए-मौत

28 0

टोक्यो: संपत्ति के लिए अपने 7 पतियों की हत्या करने वाली ‘सीरियल किलर’ चिसाको काकेही को मौत की सजा सुनाई गई है। 71 साल की काकेही के 14 पुरुषों के साथ संबंध थे। वह डेटिंग एजेंसी के जरिए ऐसे पुरुषों को तलाश करती थी जिनकी कोई संतान या करीबी रिश्तेदार न हो। रिलेशनशिप में आने के बाद जैसे ही वह पुरुष काकेही को अपनी बीमा पॉलिसी का उत्तराधिकारी बनाते वह उनको मारने का प्लान बना लेती थी। काकेही अपने पार्टनर के खाने या दवा में जहरीला पदार्थ मिलाकर उन्हे अपने रास्ते से हटा देती थी।

चिसाको के पहले पति की मौत 1994 में हुई। 2006 में दूसरे पति की मौत स्ट्रोक के कारण हुई। साल 2008 में तीसरा पति शादी के सिर्फ 3 महीने बाद हार्ट अटैक से मर गया। ये सभी मौतें कोर्ट में मर्डर साबित नहीं हो पाई क्योंकि शवों का पहले ही अंतिम संस्कार कर दिया गया था। इसलिए मौतों की वजह पता नहीं लग पाई। साल 2007 में उसने कोब के पूर्व प्रीफेक्चरल अधिकारी टोशीकी सुएहिरो से सगाई कर ली। 79 वर्षीय टोशीकी सड़क के बीच में ही गिर गए और उन्हें 2009 तक लाइफ सपोर्ट पर रखना पड़ा। इसके बाद उनकी मौत हो गई। उनके ब्लड सैंपल्स में साइनाइड मिला था।

2011 में उसने 71 वर्षीय मसानोरी होन्डा से सगाई की वह भी बाइक चलाते हुए 6 महीने बाद मर गया। 2013 में चिसाको ने 75 वर्षीय रिटायर्ड आर्किटेक्ट मिनोरू हियोकी को डिनर के दौरान जहर दे दिया। उसकी मौत का कारण शुरुआत में फेफड़ों का कैंसर माना गया लेकिन बाद में जांचकर्ताओं ने इसे मर्डर साबित कर दिया। शादी के एक ही महीने बाद 2013 में जब चिसाको के चौथे पति इसाओ काकेही की मौत हुई तो उसे 2014 में गिरफ्तार कर लिया गया।रिपोट्र्स के मुताबिक काकेही के पास पूर्व पतियों के इंश्योरेंस और संपत्ति को मिलाकर 12 मिलियन डॉलर थे। लेकिन खराब फाइनेंशियल प्लानिंग और गलत जगह निवेश के कारण उसका काफी पैसा डूब गया था।

Related Post

आज सरकार-विपक्ष में शक्ति परीक्षण, उपलब्धियों के आंकड़ों से विपक्ष को मात देंगे मोदी

Posted by - July 20, 2018 0
नई दिल्ली। अविश्वास प्रस्ताव के सहारे विपक्ष जहां मोदी सरकार को घेरने की तैयारी कर चुका है, वहीं पीएम नरेंद्र…

गुजरात में सुलझा सियासी संकट, नितिन को मिला वित्त मंत्रालय

Posted by - December 31, 2017 0
राष्ट्रीय अध्यक्ष अमित शाह से फोन पर हुई बातचीत के बाद माने उप मुख्‍यमंत्री नितिन पटेल नई दिल्ली। गुजरात सरकार में…

Leave a comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *