प्रद्युम्न मर्डर केस : आरोपी बस कंडक्टर अशोक को मिली जमानत

32 0

रेयान स्कूल मर्डर केस में पुलिस की जांच के दौरान मुख्य आरोपी बनाए गए स्कूल के बस कंडक्टर अशोक कुमार को मंगलवार को अदालत ने जमानत दे दी. गुरुग्राम जिला न्यायाधीश ने 50 हजार रुपये के मुचलके पर अशोक को सशर्त जमानत दी है. अदालत ने साथ ही अशोक को हिदायत दी है कि जरूरत पड़ने पर उसे CBI को जांच में सहयोग देना होगा और शहर छोड़ने से पहले पुलिस को सूचित करना होगा.

अशोक कुमार के परिजनों ने एक दिन पहले सोमवार को अदालत में जमानत याचिका दायर की थी. सोमवार को अदालत ने दोनों पक्षों की दलील सुनने के बाद जमानत पर फैसला सुरक्षित रख लिया था. इससे पहले गुरुवार को जुवेनाइल कोर्ट में सीबीआई ने अशोक को क्लिन चिट देने से इनकार कर दिया था.जुवेनाइल कोर्ट में सीबीआई ने अशोक कुमार की जमानत का विरोध किया था. सीबीआई ने दलील दी थी कि जब तक इस केस की जमानत पूरी नहीं हो जाती, तब तक अशोक को न्यायिक हिरासत में रखा जाए.

इन बिंदुओं के आधार पर मांगी थी जमानत

आरोपी अशोक कुमार निर्दोष है. उसे गलत तरीके से केस में फंसाया गया है.जांच के बाद से अशोक न्यायिक हिरासत में है. उसने जो अपराध नहीं किया, उसकी भी धाराओं लगाई गई हैं.आरोपी बस कंडक्टर से किसी तरह की रिकवरी या पूछताछ की जरूरत नहीं है.इस केस में दूसरा आरोपी पकड़ा जा चुका है. ऐसे में बस कंडक्टर की हिरासत की जरूरत ही नहीं.आरोपी गुरुग्राम के घामरोज गांव का स्थाई निवासी है. उसके फरार होने का कोई चांस नहीं है.

सीबीआई ने आरोपी अशोक कुमार को शुरुआत में रिमांड पर लेकर पूछताछ की थी. इसके बाद सीबीआई ने आरोपी को अदालत में पेश किया था. कोर्ट ने उसे जेल भेज दिया था. फिर सीबीआई ने इस मामले में रेयान स्कूल के ही एक नाबालिग छात्र को पकड़ा और यह कहा कि उसी ने प्रद्युम्न ठाकुर की स्कूल के अंदर हत्या की थी.

Related Post

जिन्ना

AMU छात्रों का जिन्ना की तस्वीर हटाने से इनकार, कहा- वो इतिहास का हिस्सा

Posted by - May 4, 2018 0
अलीगढ़। अलीगढ़ मुस्लिम यूनिवर्सिटी यानी एएमयू छात्रसंघ की बिल्डिंग में पाकिस्तान के संस्थापक मोहम्मद अली जिन्ना की लगी हुई फोटो…

Leave a comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *