‘गिविंग प्‍लेज’ से जुड़े नीलेकणि दंपति, आधी संपत्ति करेंगे दान

118 0

नई दिल्ली: इंफोसिस के नॉन एक्जीक्यूटिव चेयरमैन नंदन नीलेकणि और उनकी पत्नी रोहिणी नीलेकणि अपनी आधी संपत्ति दान करेंगे. दरअसल, नीलेकणि दंपति ‘द गिविंग प्लेज’ में शामिल हो गए हैं. यह दुनिया के उन अमीर लोगों को नेटवर्क हैं, जो अपनी आधी संपत्ति परमार्थ कार्यों के लिए दान करते हैं. नीलेकणि दंपति ने गिविंग प्लेज की वेबसाइट पर अपने हस्ताक्षर वाला शपथ पत्र अपलोड किया है. पत्र में बिल गेट्स और मेलिंडा गेट्स का शुक्रिया अदा किया गया है.

कहां मिली प्रेरणा
नीलेकणि ने अपने पत्र में लिखा है कि हम बिल गेट्स और मेलिंडा गेट्स की इस अनोखी पहल से काफी खुश हैं, जिसने हमें परोपकार के लिए कुछ करने की प्रेरणा दी. उन्होंने अपने पत्र में गीता के एक श्लोक का भी उदाहरण दिया.

कब शुरू हुआ ‘द गिविंग प्लेज’
बिल गेट्स और मेलिंडा गेट्स ने वारेन बफे के साथ मिलकर अगस्त, 2010 में ‘द गिविंग प्लेज’ की शुरुआत की थी. इस नेटवर्क में कुल 21 देशों से 171 दानकर्ता जुड़े हैं, इस नेटवर्क पर शामिल होने वाले नीलेकणी चौथे भारतीय हैं. उनसे पहले तीन भारतीय पहले से शामिल हैं. जिसमें विप्रो के चेयरमैन अजीम प्रेमजी, बायोकॉन की चेयरमैन किरण मजूमदार शॉ और शोभा डेवलपर्स के मानद चेयरमैन पी. एन. सी. मेनन हैं.

क्या है ‘द गिविंग प्लेज’ का मकसद
बिल गेट्स के मुताबिक, वारेन बफे और उन्हें इसके इतनी सफल होने की उम्मीद नहीं थी. दोनों ने 2010 में 40 ग्लोबल बिलियनेयर के साथ इसकी शुरुआत की थी. इसके बाद से दोनों फिलैंथ्रॉफी का प्रचार भी कर रहे हैं. वे दुनिया के अमीरों से अपनी संपत्ति का एक हिस्सा गरीबी से लड़ने और सभी वर्गों को फायदा पहुंचाने वाली ग्रोथ को बढ़ावा देने के लिए दान करने को कह रहे हैं.

Related Post

क्या आपके भी नाखून हो रहे हैं खराब ? तो आपके शरीर में कम है प्रोटीन, और भी हैं नुकसान

Posted by - September 19, 2018 0
नई दिल्ली। हमारे शरीर के विकास और दिनभर काम करने के लिए हमारे शरीर को कई तरह के विटामिन्स और…

हाफिज सईद की राजनीतिक पार्टी भी आतंकी संगठन घोषित, अमेरिका ने की कार्रवाई

Posted by - April 3, 2018 0
वॉशिंगटन। पाकिस्तान में होने वाले आम चुनाव से पहले अमेरिका ने आतंकी संगठन लश्कर-ए-तैयबा के चीफ हाफिज सईद की राजनीतिक…

Leave a comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *