हरियाणा के मंत्री के बिगड़े बोल, कहा – ‘साबरमती के संत’ गीत से शहीदों का अपमान

66 0

अंबाला। हरियाणा के स्वास्थ्य मंत्री अनिल विज ने एक बार फिर विवादित बयान दिया है। विज ने कहा कि लोकप्रिय हिंदी गीत ‘साबरमती के संत’ ने देश के स्वतंत्रता संघर्ष की गलत तस्वीर चित्रित की है। उन्होंने दावा किया कि इस गीत के बोल उन शहीदों का अपमान हैं, जिनके योगदान की इसमें अनदेखी की गई है।

अनिल विज ने गीत के बोल ‘दे दी हमें आजादी बिना खड़ग बिना ढाल, साबरमती के संत तूने कर दिया कमाल’ का जिक्र करते हुए कहा कि इस गीत में उन शहीदों का उल्लेख नहीं किया गया जिन्होंने विदेशी शासन के खिलाफ सशस्त्र संघर्ष चलाया था। विज ने अंबाला कैंट में सुभाष पार्क में आयोजित एक कार्यक्रम के दौरान यह बयान दिया। उन्होंने कहा कि गीत के बोल में देश को आजादी दिलाने के लिए सशस्त्र संघर्ष चलाने वाले तमात स्वतंत्रता सेनानियों का उल्लेख नहीं किया गया है।

विज ने कहा कि यह गीत सच्ची तस्वीर को चित्रित नहीं करता है। उन्‍होंने कहा कि बोस और उनकी आजाद हिंद फौज, भगत सिंह, चन्द्रशेखर आजाद, राजगुरू, सुखदेव और अन्य लोगों ने भी अंग्रेजों को बाहर खदेड़ने के लिए संघर्ष किया था। उन्होंने कहा कि कई अन्य लोगों ने भी देश के लिए अपने प्राण न्योछावर किए थे लेकिन जब हम यह कहते हैं ‘दे दी हमें आजादी बिना खड़ग बिना ढाल’ तो यह उन शहीदों का अपमान है।

पहले भी दे चुके हैं विवादित बयान

विपक्षी कांग्रेस ने विज के बयान की निंदा करते हुए कहा कि गैर जिम्मेदार बयान देने की अनिल विज की आदत हो गई है। ऐसा पहली बार नहीं है जब उन्होंने महात्मा गांधी का अपमान करने का प्रयास किया है। वह इससे पहले भी ऐसा कर चुके हैं। रोहतक से सांसद दीपेन्द्र सिंह हुड्डा ने कहा कि इस तरह के बयान देने की बजाय उन्हें अपने मंत्रालय पर ध्यान देना चाहिए और वहां सुधार लाने का प्रयास करना चाहिए। यह गीत वर्ष 1954 में आई फिल्म ‘जागृति’ का है।

Read More : https://aajtak.intoday.in/story/anil-vij-sabarmati-ke-sant-song-insult-freedom-fighters-traj-html-1-965899.html

 

Related Post

पुंछ में आतंकियों के दो ठिकाने मिले, हथियारों का जखीरा बरामद

Posted by - February 27, 2018 0
जम्मू। जम्मू-कश्मीर के पुंछ जिले में मंगलवार (27 फरवरी) को सुरक्षा बलों ने आतंकवादियों के दो ठिकानों का खुलासा करते हुए…

जो बच्चे सेकेंडरी स्कूल में बेस्ट फ्रेंड और स्कूल नहीं बदलते, उनके आते हैं ज्यादा मार्क्स :स्टडी

Posted by - October 9, 2018 0
लंदन। सेकेंडरी स्कूल में जो बच्चे अपने बेस्ट फ्रेंड और स्कूल नहीं बदलते हैं और साथ पढ़ते हैं उन बच्चों…

Leave a comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *