अरुण शौरी बोले – बीजेपी को हराना है तो साथ आए विपक्ष

24 0
  • कहा – विपक्ष बीजेपी के खिलाफ सयुंक्त उम्मीदवार उतारे ताकि मुकाबला दो लोगों के बीच रहे 

पूर्व केंद्रीय मंत्री यशवंत सिन्हा के बाद अब बीजेपी पर एक बार फिर घर से वार हुआ है. अटल सरकार में मंत्री रहे अरुण शौरी ने गुरुवार को कहा कि अगर विपक्षी दलों को चुनावों में भारतीय जनता पार्टी को हराना है तो उन्हें एकजुट होना होगा.

शौरी ने कहा कि विपक्ष को बीजेपी के खिलाफ सयुंक्त उम्मीदवार उतारना चाहिए, जिससे मुकाबला दो लोगों के बीच में रहे. उन्होंने कहा, ‘‘जैसा कि इस्लामी चरमपंथ में होता है, अगर कोई प्रवचन दे रहा है तो कोई फर्क नहीं पड़ता लेकिन जब वे हथियार उठाकर जमीन कब्जा लेते हुए हैं तो यह असल समस्या बन जाती है. आपको उन्हें सैन्य तरीके से हराना होगा. ’’पूर्व केंद्रीय मंत्री शौरी ने एक कार्यक्रम में कहा, ‘‘इसलिए लोकतंत्र में भी, इस तरह के बलों की हार चुनावी सुधार के जरिए होनी चाहिए. विपक्ष तथा अन्य के नेताओं को एक संकल्प लेना चाहिए कि भाजपा के उम्मीदवार के खिलाफ केवल एक उम्मीदवार.’’

गौरतलब है कि इससे पहले पूर्व केंद्रीय मंत्री यशवंत सिन्हा भी जीएसटी, नोटबंदी, अर्थव्यवस्था पर मोदी सरकार को घेर चुके हैं. हाल ही में उन्होंने बयान दिया था कि जीएसटी के कारण देशवासियों को हुई मुश्किलों के लिए जेटली को पद से इस्तीफा देना चाहिए, साथ ही उन्होंने कहा कि गुजरात की जनता को जेटली बोझ लगते हैं. आपको बता दें कि अरुण जेटली गुजरात से ही राज्यसभा सदस्य चुने गए हैं.आपको बता दें कि जेटली ने कुछ दिन पहले कहा था कि सिन्हा 80 साल की उम्र में काम की तलाश कर रहे हैं. इस पर सिन्हा ने कहा कि वह अब भी तंदुरुस्त हैं और उन लोगों की तरह नहीं हैं जो बैठकर भाषण देते हैं. उनका इशारा संसद में बजट भाषण के बीच में जेटली के बैठ जाने की तरफ था. Read more

Related Post

अंग्रेजों की जीत का जश्न मनाने के दौरान पुणे में दो समुदायों में हिंसा

Posted by - January 2, 2018 0
उग्र लोगों ने किया जगह-जगह प्रदर्शन, कई गाडि़यों में लगाई आग, एक की मौत पुणे। पुणे जिले में भीमा-कोरेगांव की लड़ाई…

हिमाचल प्रदेश और पंजाब में भारी बारिश से बाढ़ जैसे हालात, स्कूल-कॉलेज बंद

Posted by - September 24, 2018 0
चंडीगढ़/शिमला। हिमाचल प्रदेश और पंजाब के कई इलाकों में भारी बारिश के कारण बाढ़ के हालात बन गए हैं। पंजाब…

Leave a comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *