सेंसर बोर्ड सदस्य बोले – भंसाली पर दर्ज हो देशद्रोह का मुकदमा

103 0
  • पद्मावती कंट्रोवर्सी : सेंसर बोर्ड के सदस्य ने गृहमंत्री को चिट्ठी लिख फिल्म के कंटेंट पर जताई आपत्ति

मुंबई। पद्मावती को लेकर संजय लीला भंसाली की मुश्किलें लगातार बढ़ती जा रही हैं। करणी सेना के विरोध में कई राजानीतिक दल भी शामिल हो चुके हैं। इस बीच गुरुवार को सेंसर बोर्ड के एक सदस्य ने गृहमंत्री को चिट्ठी लिखकर फिल्म के कंटेंट पर आपत्ति जताई है।

सूत्रों के मुताबिक, सेंसर बोर्ड के सदस्य अर्जुन गुप्ता ने गृहमंत्री राजनाथ सिंह को चिट्ठी लिखकर भंसाली पर देशद्रोह का मामला दर्ज करने की मांग की। चिट्ठी में उन्होंने मेकर्स पर रानी की छवि खराब करने का आरोप लगाया है। उधर, राजस्थान के कई पूर्व राजघरानों ने भी फिल्म के कंटेंट पर आपत्ति जताई है। बता दें कि करणी सेना, बीजेपी और कांग्रेस जैसे दलों ने भी रिलीज से पहले राजपूत समाज के प्रतिनिधियों को पद्मावती दिखाने की मांग की है। इससे पहले भारतीय जनता पार्टी ने निर्वाचन आयोग, केंद्र सरकार और सेंसर बोर्ड को चिट्ठी लिखकर पद्मावती के रिलीज को रोकने की मांग की थी।

स्‍मृति ईरानी ने लिया यू-टर्न

गुरुवार को पद्मावाती को लेकर जारी विवाद पर केंद्रीय मंत्री स्मृति ईरानी ने किसी तरह की टिप्पणी करने से इनकार कर दिया। एक सवाल के जवाब में उन्होंने कहा कि उन्होंने फिल्म नहीं देखी है, लिहाजा वो इस पर कोई कमेंट नहीं करना चाहती हैं। हालांकि कुछ समय पहले स्मृति ईरानी ने कहा था कि पद्मावती की रिलीज को लेकर कोई समस्या नहीं आएगी। सरकार कानून व्यवस्था का ध्यान रखेगी, लेकिन अब गुजरात चुनावों को देखते हुए स्मृति ईरानी ने फिल्म पर यू-टर्न ले लिया है।

भंसाली के ऑफिस के बाहर 24 घंटे पुलिस का पहरा

देशभर में फिल्म पद्मावती को लेकर हो रहे विरोध को देखते हुए फिल्म के निर्देशक संजय लीला भंसाली के मुंबई स्थित ऑफ़िस के बाहर मुंबई पुलिस का कड़ा सुरक्षा बंदोबस्त कर दिया गया है। भंसाली को प्रोटेक्शन देने के लिए पुलिस जवान 24 घंटे वहां मौजूद रहेंगे। बता दें कि कई संगठनों ने पद्मावती में रानी पद्मिनी के गलत चित्रण दिखाए जाने के विरोध में देश भर में जमकर प्रदर्शन किए हैं, पुतले फूंके हैं और धमकी दी है कि वो इस फिल्म को रिलीज़ नहीं होंगे देंगे।

Read More : https://aajtak.intoday.in/story/padmavati-sensor-board-member-to-rajnath-book-bhansali-for-sedition-tmov-1-963650.html

 

Related Post

Leave a comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *