गुजरात के सीएम की कंपनी पर सेबी ने लगाया 15 लाख जुर्माना

49 0
  • रूपाणी की कंपनी पर व्यापार में हेर-फेर का आरोप, 21 अन्‍य कंपनियों पर भी लगा जुर्माना

नई दिल्‍ली। गुजरात विधानसभा चुनावों से ठीक पहले सेबी ने राज्य के मुख्यमंत्री विजय रूपाणी की कंपनी पर बड़ा जुर्माना लगाया है। सेबी ने विजय रूपाणी की हिंदू अविभाजित परिवार (एचयूएफ) पर 15 लाख रुपए का जुर्माना लगाया है। रूपाणी की कंपनी पर सारंग केमिकल्स की कंपनी के साथ व्यापार में हेर-फेर का आरोप है। उनके अलावा कुल 22 कंपनियों पर जुर्माना लगा है।

सेबी के आदेश के अनुसार, जनवरी से लेकर जून 2011 तक रूपाणी की कंपनी ओर से ये हेर-फेर किया गया है। रूपाणी को यह जुर्माना 45 दिनों में देना होगा। नोटिस में लिखा गया है कि इन कंपनियों ने निवेशकों को आकर्षित करने के लिए एक-दूसरे के शेयरों का व्यापार किया। सेबी ने 22 कंपनियों पर कुल 6.9 करोड़ रुपए का जुर्माना लगाया है, जिनमें से एक विजय रूपाणी की कंपनी है। मई 2016 में सेबी ने एक नोटिस जारी कर कहा था कि इन 22 कंपनियों ने सेबी के एक्ट का उल्लघंन किया है।

तीन अन्य व्यक्तियों को 70-70 लाख रुपये या उससे ज्यादा रकम भरनी होगी। सेबी का कहना है कि जुर्माने की राशि ‘उल्लंघन के अनुरूप’ ही है। इन 22 नामों में दो ब्रोकर हैं, जिनके जरिए कारोबार किया गया था। उन दोनों से 8-8 लाख रुपये का जुर्माना वसूला जाएगा। कथित हेरफेर भरे सौदे जनवरी, 2011 से जून, 2011 के बीच किए गए थे।

Read More : https://aajtak.intoday.in/story/gujarat-assembly-election-2017-sebi-fined-vijay-rupani-company-1-963591.html

 

Related Post

अविश्वास प्रस्ताव के पक्ष में 181 सांसद, शिवसेना साथ छोड़े तो भी जीतेंगे मोदी

Posted by - March 16, 2018 0
नई दिल्ली। आंध्र प्रदेश को विशेष राज्य का दर्जा न दिए जाने को मुद्दा बनाकर वाईएसआर कांग्रेस, मोदी सरकार के…

AC रेस्टोरेंट्स में खाना होगा सस्ता, GST में 6 प्रतिशत की कटौती करेगी सरकार

Posted by - October 18, 2017 0
अब एसी रेस्टोरेंट में खाना खाने पर आपको कम टैक्स देना पड़ेगा। जीएसटी काउंसिल एसी रेस्टोरेंट में लगने वाले टैक्स को 18 फीसदी से घटाकर…

JNU छात्रसंघ चुनाव : हंगामे और तोड़फोड़ के बाद रोकी गई वोटों की गिनती

Posted by - September 15, 2018 0
नई दिल्ली। जवाहरलाल नेहरू विश्वविद्यालय (JNU) में छात्रसंघ चुनाव के बाद काउंटिंग के दौरान मचे हंगामे के बाद वोटों की गिनती…

Leave a comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *