गर्भपात के लिए पति की इजाजत जरूरी नहीं : सुप्रीम कोर्ट

46 0
  •   कोर्ट ने कहा – बालिग महिला को बच्चे को जन्म देने या गर्भपात कराने का फैसला लेने का अधिकार

नई दिल्लीः गर्भपात को लेकर सुप्रीम कोर्ट ने गुरुवार को एक महत्वपूर्ण फैसला सुनाया. इस फैसले के मुताबिक अब किसी भी महिला को गर्भपात कराने के लिए अपने पति की सहमति लेने की जरूरत नहीं है. एक याचिका पर सुनवाई करते हुए सुप्रीम कोर्ट ने कहा कि किसी भी बालिग महिला को बच्चे को जन्म देने या फिर गर्भपात कराने का फैसला लेने का अधिकार है, महिला के लिए यह जरूरी नहीं है कि गर्भपात का फैसला वह पति की सहमति के बाद ही ले. दरअसल पत्नी से अलग हो चुके एक पति ने सुप्रीम कोर्ट में याचिका लगाई थी कि उसकी पूर्व पत्नी और उसके माता-पिता, भाई व दो डॉक्टरों में पर अवैध गर्भपात का आरोप लगाया था. याचिका में कहा गया था कि उसकी सहमति के बिना गर्भपात कराया गया था.

इससे पहले पंजाब एंड हरियाणा हाईकोर्ट ने भी याचिकाकर्ता की याचिका ठुकराते हुए कहा था कि गर्भपात का फैसला पूरी तरह से महिला का हो सकता है.  गुरुवार को सुप्रीम कोर्ट में चीफ जस्टिस दीपक मिश्रा, जस्टिस डी वाई चंद्रचूड़ और जस्टिस ए एम खानविलकर की बेंच ने हाई कोर्ट के फैसले पर ही मुहर लगाई पंजाब एंड हरियाणा हाईकोर्ट ने अपने फैसले में कहा था, ‘पति-पत्नी के बीच तनावपूर्ण संबंधों को देखते हुए महिला का गर्भपात का फैसला पूरी तरह से कानून के दायरे में है.

Read more: http://zeenews.india.com/hindi/india/no-need-for-husbands-permission-for-abortion-supreme-court/348255

Related Post

इवांका ने कहा – चाय वाले का पीएम बनना असाधारण, मोदी हैं साहसी

Posted by - November 29, 2017 0
पीएम मोदी और इवांका ट्रम्प ने किया आठवें इंटरनेशनल ग्लोबल इंटरप्रेन्योरशिप समिट का उद्घाटन हैदराबाद। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और इवांका ट्रम्प ने…

रिलीज हुआ, ‘फन्ने खां’ का पहला गाना, फ्लोर पर ऐश्वर्या ने लगा दी आग

Posted by - July 12, 2018 0
नई दिल्ली: बॉलीवुड की मशहूर एक्ट्रेस ऐश्वर्या राय बच्चन की आने वाली फिल्म ‘फन्ने खां (Fanney Khan)’ पहला गाना भी रिलीज…

Leave a comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *