हिमाचल प्रदेश के मंडी में आए 4.4 तीव्रता के भूकंप के झटके

43 0

शिमला: हिमाचल प्रदेश के मंडी क्षेत्र में शुक्रवार को रिक्टर पैमाने पर 4.4 तीव्रता के भूकंप के झटके महसूस किए गए. एक अधिकारी ने बताया कि भूकंप की वजह से किसी तरह के जान एवं माल की हानि नहीं हुई है. मौसम विभाग के निदेशक मनमोहन सिंह ने मीडिया को जानकारी देते हुए बताया कि भूकंप के झटके मंडी क्षेत्र के केंद्र में सुबह 8.07 बजे महसूस किए गए. चांबा क्षेत्र में दो अक्टूबर को भी हल्के भूकंप के झटके महसूस किए गए थे.राज्य में 1905 में कांगड़ा घाटी में आए भूकंप ने सर्वाधिक तबाही मचाई थी. इसमें 20,000 से अधिक लोगों की मौत हो गई थी.

भूकंप के दौरान ऐसे करें बचाव

भूकंप जैसी प्राकृतिक आपदा से बचाव मुश्किल है और इसे टाला नहीं जा सकता है. लेकिन आप कुछ समझादारी का इस्तेमाल कर इस कुदरती कहर से अपना बचाव कर सकते हैं.

भूकंप के दौरान आपको लिफ्ट का इस्तेमाल नहीं करना चाहिए. बाहर जाने के लिए लिफ्ट की बजाय सीढ़ियों का इस्तेमाल करें. कहीं फंस गए हों तो दौड़ें नहीं. इससे भूकंप का ज्यादा असर होगा.अगर आप गाड़ी या कोई भी वाहन चला रहे तो उसे फौरन रोक दे. वाहन चला रहे हैं तो बिल्डिंग, होर्डिंग्स, खंभों, फ्लाईओवर, पुल से दूर सड़क के किनारे गाड़ी रोक लें.भूकंप आने पर तुरंत सुरक्षित और खुले मैदान में जाएं.बड़ी इमारतों, पेड़ों, बिजली के खंभों से दूर रहें. भूकंप आने पर खिड़की, अलमारी, पंखे, ऊपर रखे भारी सामान से दूर हट जाएं ताकि इनके गिरने से चोट न लगे. टेबल, बेड, डेस्क जैसे मजबूत फर्नीचर के नीचे छिप जाएं. किसी मजबूत दीवार, खंभे से सटकर सिर, हाथ आदि को किसी मजबूत चीज से ढ़ककर बैठ जाएं.

Read more: http://zeenews.india.com/hindi/india/himachal-pradesh-mandi-hit-by-4-4-magnitude-earthquake/348105

Related Post

सिर्फ 2 लाख में इस महिला ने खोली थी वेडिंग कंसल्टेंसी, 6 साल में टर्नओवर 10 करोड़ के पार

Posted by - September 18, 2018 0
मुंबई। शादी में कोई कमी न रह जाए इसलिए लोग महीनों पहले से सारी तैयारियां करने लगते हैं। हलवाई से…

योगी सरकार के मंत्री बोले – 325 सीटों के नशे में पागल होकर घूम रही भाजपा

Posted by - March 19, 2018 0
सुहेलदेव भारतीय समाज पार्टी के अध्यक्ष ओमप्रकाश राजभर बोले – गठबंधन धर्म नहीं निभा रही भाजपा कहा – गरीबों के कल्याण…

बंगलुरु हादसे में मलबे से जिंदा निकली मासूम, मां-बाप की मौत, बच्ची को सरकार ने लिया गोद

Posted by - October 16, 2017 0
कहा जाता है कि जाको राखे साइयां मार सके ना कोय, ऐसा ही कुछ बंगलुरु के इज्जिपुरा इलाके में हुआ.…

Leave a comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *