इन तीन तरीकों से घर बैठे आधार से लिंक हो जाएगा मोबाइल नंबर

51 0

मोबाइल नंबर को आधार कार्ड से लिंक करना अनिवार्य है. इस काम के लिए सरकार ने फरवरी, 2018 तक का समय दिया है. अगर उससे पहले दोनों को लिंक नहीं किया गया, तो आपका नंबर बंद हो सकता है.आपको इस काम के लिए आधार एनरोलमेंट सेंटर में जाना पड़ता था, लेकिन अब नहीं. केंद्र सरकार ने आपको 3 ऐसे तरीके दिए हैं, जिनके जरिये आप घर बैठे ही मोबाइल नंबर को आधार से लिंक कर सकते हैं.

दूरसंचार मंत्री मनोज सिन्हा ने इनकी जानकारी दी है. आगे जानिए इन तीन तरीकों के बारे में . पहला : वन टाइम पासवर्ड  : अगर आपका एक मोबाइल नंबर आधार के साथ पहले ही रजिस्टर्ड है और आप दूसरा मोबाइल नंबर रजिस्टर करना चाहते हैं, तो यह काम अब आप ओटीपी के जरिये घर बैठे ही कर सकते हैं.

मोबाइल कंपनियां अपनी वेबसाइट व विशेष ऐप के जरिये यह सुविधा देंगी. इस पर रजिस्ट्रेशन के बाद ओटीपी आएगा. इसे एंटर करने के बाद आपका नंबर आधार से लिंक हो जाएगा.दूसरा : आईवीआरएस वेरीफिकेशन  : मनोज सिन्हा ने बताया कि वन टाइम पासवर्ड के अलावा ग्राहक चाहें, तो इंटरेक्टिव वॉयस रिस्‍पॉन्‍स सिस्‍टम (आईवीआरएस) की मदद से भी सिम रजिस्टर करवा सकते हैं.

इसके लिए भी उन्हें टेलिकॉम कंपनी की वेबसाइट या विशेष ऐप पर खुद रजिस्टर करना होगा. इसके बाद आईवीआरएस कॉल से सारी जानकारी वेरीफाई करने के बाद आधार को मोबाइल नंबर से लिंक कर दिया जाएगा.तीसरी : घर पर आएगा एजेंट  : मोबाइल नंबर को आधार से लिंक करने के लिए सरकार तीसरा विकल्प घर पर एजेंट बुलाने का दे रही है. इसके तहत कंपनी की वेबसाइट या ऐप पर ग्राहक को आवेदन करना होगा और एजेंट घर आकर आधार को मोबाइल से लिंक करने की प्रक्रिया पूरी करेगा.हालांकि यह सुविधा सिर्फ बुजुर्गों और बीमार लोगों को ध्यान में रखकर दूरसंचार मंत्रालय ने इसका सुझाव दिया है.

Read more: http://aajtak.intoday.in/gallery/now-link-mobile-number-with-aadhar-card-from-home-3-steps-tut-9-15666.html

Related Post

बक्‍सर में सीएम नीतीश कुमार के काफिले पर हमला, कुछ सुरक्षाकर्मी घायल

Posted by - January 12, 2018 0
विकास समीक्षा यात्रा पर जिले के दौरे पर थे नीतीश, सीएम को सुरक्षित निकाला गया बक्सर। बिहार के बक्सर जिले में मुख्यमंत्री नीतीश…

भारत में 74% स्कूली छात्र लेते हैं मैथ्य का ट्यूशन, ग्लोबल एजुकेशन के सर्वे में सामने आई ये सच्चाई

Posted by - November 28, 2018 0
नई दिल्ली। भारत में हर घर का दूसरा बच्चा ट्यूटोरियल क्लासेस पर डिपेंड है। भारत में 74% स्कूली छात्र मैथ…

Leave a comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *