मुस्लिम महिलाओं का भगवान श्रीराम की आरती करना गलत : देवबंद

25 0
  • देवबंदी उलेमा बोले – ऐसा करने वाला मुसलमान नहीं रहता और वह ईमान से खारिज हो जाता है

सहारनपुर। देवबंदी उलेमाओं ने दीपावली के मौके पर वाराणसी में एक कार्यक्रम में मुस्लिम महिलाओं के भगवान श्रीराम की तस्वीर के सामने खड़े होकर आरती करने को गलत बताया है। देवबंदी उलेमाओं का कहना है कि ऐसा करने वाला मुसलमान नहीं रहता और वह ईमान से खारिज हो जाता है।

दारूल उलूम जकरिया मदरसे के मोहतमिम मौलाना मुफ्ती शरीफ खान ने कहा कि इस्लाम में शरीयत पूरी दुनिया के लिए एक है। शरीयत के अनुसार, अगर वो मुसलमान है तो उसको सिर्फ अल्लाह की इबादत करनी चाहिए। उन्होंने कहा कि इस्लाम में सिर्फ अल्लाह की इबादत करने की इजाजत है। अगर कोई उसको (अल्लाह को) छोड़कर किसी और तरीके से किसी की भी इबादत करता है या आरती करता है तो वो इस्लाम से खारिज हो जाएगा।

शरीफ खान ने कहा कि ऐसा करने वाला शख्स मुसलमान ही नहीं रहेगा, क्योंकि उसने इस्लाम के कानून के खिलाफ काम किया है, इसलिए वो वाराणसी में हो या लखनऊ में या फिर दुनिया के किसी भी मुल्क में, औरत हो या मर्द, अगर कोई भी इस किस्म का काम करता है तो वो इस्लाम से खारिज मान लिया जाएगा। उसको मुस्लिम महिला या पुरुष कहना शरीयत के एतबार से सही नहीं होगा। दरअसल, दीपावली के मौके पर विशाल भारत संस्थान के बैनर तले वाराणसी में आयोजित एक कार्यक्रम के दौरान मुस्लिम महिलाओं ने भगवान श्रीराम की तस्वीर के सामने खड़े होकर आरती की थी।

Read More : http://abpnews.abplive.in/india-news/it-is-wrong-to-make-aarti-of-lord-shriram-of-muslim-women-says-deoband-ulema-710364?google_editors_picks=true

 

Related Post

प्रधानमंत्री बोले – कांग्रेस ने 48 साल राज किया, हमने 48 महीने काम

Posted by - February 25, 2018 0
कहा – कांग्रेस नेता दिल्ली में लोकतंत्र की बात करते हैं, लेकिन पुडुचेरी में पंचायत चुनाव नहीं होने देते पुडुचेरी।…

ढाई महीने बाद नजर आए कॉमेडियन कपिल शर्मा, देखकर रह जाएंगे हैरान

Posted by - June 21, 2018 0
मुंबई। कॉमेडियन कपिल शर्मा करीब ढाई महीने बाद मंगलवार (19 जून) की रात मुंबई एयरपोर्ट पर नजर आए। उन्‍हें अपने प्यारे…

Leave a comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *