हंगर इंडेक्स में नॉर्थ कोरिया व बांग्लादेश से भी पीछे हुआ भारत

33 0
  • 119 देशों के ग्लोबल हंगर इंडेक्स में भारत तीन पायदान नीचे खिसककर 100वें स्थान पर पहुंचा

भारत में भूख एक गंभीर समस्या है. 119 देशों के ग्लोबल हंगर इंडेक्स में भारत तीन पायदान नीचे खिसककर 100 स्थान पर पहुंच गया है. पिछले साल भारत इस सूचकांक (इंडेक्स) में 97वें पायदान पर था. ग्लोबल हंगर इंडेक्स रिपोर्ट-2017 के मुताबिक इस मामले में भारत उत्तर कोरिया, बांग्लादेश, नेपाल और म्यांमार जैसे देशों से भी पीछे है, लेकिन पाकिस्तान से आगे है.

इंटरनेशनल फूड पॉलिसी रिसर्च इंस्टीट्यूट (IFPRI) ने अपनी रिपोर्ट में कहा कि बच्चों में कुपोषण की उच्च दर से देश में भूख का स्तर इतना गंभीर है और सामाजिक क्षेत्र को इसके प्रति मजबूत प्रतिबद्धता दिखाने की जरूरत है. पिछले वर्ष भारत इस सूचकांक में 97वें स्थान पर था. IFPRI ने एक बयान में कहा कि 119 देशों में भारत 100वें स्थान पर है और समूचे एशिया में सिर्फ अफगानिस्तान और पाकिस्तान उससे पीछे हैं.

उन्होंने कहा कि 31.4 स्कोर के साथ भारत का साल 2017 का ग्लोबल हंगर इंडेक्स अंक ऊंचाई की तरफ और गंभीर श्रेणी में है. यह उन मुख्य कारकों में से एक है, जिसकी वजह से दक्षिण एशिया इस साल ग्लोबल हंगर इंडेक्स में सबसे खराब प्रदर्शन करने वाले क्षेत्रों में से एक है रिपोर्ट के मुताबिक इस सूचकांक में चीन की रैंकिंग 29, नेपाल 72, म्यांमार 77, श्रीलंका 84 और बांग्लादेश 88 स्थान पर हैं यानी भारत इन पड़ोसी देशों से भी पीछे है. हालांकि पाकिस्तान और अफगानिस्तान क्रमश: 106वें और 107वें स्थान पर हैं.

Read More:http://aajtak.intoday.in/story/india-hunger-problem-worse-north-korea-bangladesh-global-hunger-index-report-1-958026.html

Related Post

‘गोल्‍ड’ बनेगी सऊदी अरब में रिलीज होने वाली बॉलीवुड की पहली फिल्‍म

Posted by - September 4, 2018 0
मुंबई। बॉलीवुड एक्टर अक्षय कुमार की फिल्म ‘गोल्ड’ को नई कामयाबी हासिल हुई है। ये बॉलीवुड की पहली ऐसी फिल्म बनने जा रही…

ट्रंप की किम जोंग को चेतावनी – मेरे पास ज्यादा बड़ा और पावरफुल न्यूक्लियर बटन

Posted by - January 3, 2018 0
वाशिंगटन। उत्तरी कोरिया के शासक किम जोंग उन द्वारा परमाणु हथियार चलाने का बटन हर समय उनके पास मौजूद रहने की…

Leave a comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *