गोरखपुर विश्‍वविद्यालय में दो छात्राओं से छेड़छाड़, अगवा करने की कोशिश

85 0
  • गार्ड को धमका कर कैंपस में घुसे थे तीन युवक, चीफ प्रॉक्टर ने तीनों को किया पुलिस के हवाले

गोरखपुर। अभी बीएचयू में छात्राओं संग छेड़छाड़ का मामला थमा भी नहीं है कि दीनदयाल उपाध्याय गोरखपुर विश्वविद्यालय में कुछ शोहदों ने दो छात्राओं से छेड़छाड़ की और प्रतिरोध करने पर उनको अगवा करने की कोशिश की। संयोग ठीक रहा कि मौके पर गार्ड मौजूद थे और उन्होंने चीफ प्रॉक्टर को समय से सूचना पहुंचा दी। मौके पर पहुंचे चीफ प्रॉक्टर प्रो. गोपाल प्रसाद ने तीनों आरोपियों को पकड़वा कर कैंट पुलिस के हवाले कर दिया। 

शनिवार को स्नातक की दो छात्राएं यूनिवर्सिटी कैंपस में क्लास करने जा रही थी। इन छात्राओं का कुछ युवक काफी दूर से पीछा कर रहे थे। छात्राएं इनका प्रतिरोध करने की बजाय चुपचाप कैंपस पहुंचीं। छात्राओं के प्रतिरोध न करने से इन शोहदों का हौसला और बढ़ गया। ये यूनिवर्सिटी कैंपस में भी घुस गए। गेट पर तैनात सुरक्षा गार्डों ने उन्‍हें रोकने की कोशिश की तो उनको भी डरा-धमका कर अंदर चले गए। अंदर दाखिल होने के बाद इन तीनों युवकों का हौसला और बढ़ गया। तीनों युवक उन छात्राओं पर छींटाकशी करते हुए गृह विज्ञान विभाग तक पहुंच गए।

जब छेड़खानी हद से गुजरने लगी तो छात्राओं ने इसका प्रतिरोध किया। यह सब उन युवकों को नागवार लगा। आरोपी युवक उनके संग छेड़खानी करते हुए उन्‍हें जबरन अपने साथ ले जाने लगे। कुछ दूरी पर तैनात सुरक्षा गार्ड ने यह सब देख लिया। उसने अलर्ट होने के साथ ही चीफ प्रॉक्‍टर प्रो. गोपाल प्रसाद को सूचित कर दिया। प्रो. गोपाल प्रसाद पूरी टीम के साथ तुरंत मौके पर पहुंच गए और तत्काल आरोपी युवकों को पकड़ लिया गया। नियंता मंडल ने पीड़ित छात्राओं से आपबीती सुनी। इसके बाद तीनों आरोपियों को कैंट थाने की पुलिस को सौंप दिया गया। कैंट पुलिस तीनों युवकों को हिरासत में लेकर पूछताछ कर रही है। आरोपी युवक शहर के नीना थापा इंटर कॉलेज के पास के रहने वाले बताए जा रहे हैं। 

Related Post

शर्मनाक : हॉस्टल में गंदे सेनेटरी पैड मिलने पर वार्डन ने उतरवाए छात्राओं के कपड़े

Posted by - March 26, 2018 0
मध्‍य प्रदेश के डॉ. हरिसिंह गौर यूनिवर्सिटी का मामला, पीडि़त छात्राओं ने की कुलपति से शिकायत भोपाल। मध्‍य प्रदेश के सागर…

सचिन तेंदुलकर ने अपने अंदाज में किया आलोचकों का मुंह बंद

Posted by - April 1, 2018 0
प्रधानमंत्री राहत कोष में दान दिया राज्‍यसभा सदस्‍य के रूप में मिला अपना पूरा वेतन प्रधानमंत्री कार्यालय ने उनकी इस…

ग्रामीण इलाकों में अधर में बच्चों की पढ़ाई-लिखाई, हालात करते हैं सोचने पर मजबूर

Posted by - November 10, 2018 0
नई दिल्ली। भारत के ग्रामीण इलाकों में बच्चों की पढ़ाई और लिखाई अधर में है। सरकारी स्कूलों में बच्चों का…

जिन्हें 11 साल से पहले आ जाते हैं पीरियड्स उनके बेटों को करना पड़ता है इस चीज का सामना : स्टडी

Posted by - October 13, 2018 0
कोपेनहेगन। जिन महिलाओं को पहली बार पीरियड्स 11 साल से पहले हो जाते हैं, उनके बेटों को कई चीजों का…

Leave a comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *