पीएम मोदी से शादी की तमन्ना में जंतर-मंतर पर धरना दे रही महिला

112 0
  • जयपुर की रहने वाली ओम शांति शर्मा 8 सितम्‍बर से बैठी हैं धरने पर

नई दिल्‍ली। जंतर मंतर यूं तो तमाम तरह के प्रदर्शन के लिए जाना जाता है लेकिन इन दिनों 44 साल की ओम शांति शर्मा एक अनूठी ख्वाहिश के साथ जंतर मंतर पर धरना दे रही हैं। राजस्थान के जयपुर की रहने वाली ओम शांति शर्मा की ख्वाहिश है कि वह प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी से शादी करें और इसलिए वो जंतर मंतर पर धरना दे रही हैं। दिल्ली के जंतर मंतर पर 8 सितंबर से ओम शांति शर्मा इसी ख्वाहिश के साथ धरना दे रही है कि वह प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी से शादी करना चाहती हैं।

ओम शांति बताती हैं कि उन्हें उनके पति ने धोखा दिया है, ऐसे में उनके दुख की वेदना को सिर्फ प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ही समझ सकते हैं। साथ ही वह ये भी बताती हैं कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी उनसे उम्र में बड़े हैं और वह उनकी सेवा करना चाहती हैं। शांति शर्मा पीएम मोदी के व्यवहार को अच्छा मानती हैं और उनकी ये खासियत कि वो गरीबों और दुखियों की आवाज़ सुनते हैं, इससे प्रभावित हैं। बीते 8 सितम्बर से दिल्ली के जंतर मंतर पर प्रदर्शन कर रही शांति शर्मा बताती हैं कि वह पीएम मोदी से शादी करने की इच्छा के चलते यहां बैठी हैं। वह यहीं जंतर-मंतर के फुटपाथ पर सोती हैं और यहीं रहती हैं।

शांति शर्मा की इच्छा है कि एक बार पीएम मोदी उनसे मिल लें तो वो अपना प्रदर्शन खत्म कर देंगी। जंतर मंतर के फुटपाथ पर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की तस्वीर के साथ बैठी शांति शर्मा मुस्करा कर कहती हैं कि मुझे यकीन है कि मोदी जी जब मेरी दुखभरी बात सुनेंगे तो यकीनन मुझे अपना लेंगे। सिर्फ एक चादर जमीन पर बिछाकर और चंद कपड़े लेकर जंतर मंतर पर 8 सितम्बर से बैठी शांति शर्मा कहती हैं कि मोदी जी एक बार मिल लेंगे तो वो वापस चली जाएंगी।

Read More : http://aajtak.intoday.in/story/jaipur-woman-on-sit-in-for-a-month-now-at-jantar-mantar-to-marry-pm-modi-1-956795.html

 

Related Post

कम एक्सरसाइज की वजह से दुनिया में 1.4 अरब लोग बीमारियों की जद में : डब्ल्यूएचओ

Posted by - September 7, 2018 0
नई दिल्ली। कम एक्सरसाइज करने के कारण दुनियाभर के 1.4 अरब लोगों के स्वास्थ्य पर गंभीर बीमारियों का खतरा मंडरा…

Leave a comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *