‘जाने भी दो यारों’ के निर्देशक कुंदन शाह का निधन, शोक में बॉलीवुड

141 0
  • शाह ने कभी हां कभी नाजैसी फिल्में और नुक्कड़वागले की दुनियाजैसे प्रसिद्ध टीवी सीरियल भी बनाए

मुंबई। ‘जाने भी दो यारों’ जैसी फिल्‍में बनाने वाले प्रसिद्ध निर्देशक कुंदन शाह का शुक्रवार देर रात मुंबई में दिल का दौरा पड़ने से निधन हो गया। वह 69 साल के थे। राष्‍ट्रीय पुरस्‍कार विजेता कुंदन शाह फिल्‍मों और टीवी का जाना-माना नाम थे। उन्‍होंने कई हिट फिल्‍में और लोकप्रिय टीवी सीरियल्स भी बनाए थे। कुंदन शाह को हमेशा उनकी फिल्म ‘जाने भी दो यारों’ के चलते याद किया जाता था। उन्होंने ‘कभी हां कभी ना’ जैसी फिल्में और ‘नुक्कड़’ और ‘वागले की दुनिया’ जैसे प्रसिद्ध टीवी सीरियल भी बनाए थे।

कुंदन शाह ऐसे निर्देशक थे, जिन्‍होंने भारतीय सिनेमा में पहली बार व्‍यंग्‍यात्‍मक कॉमेडी विधा को लोगों के सामने रखा। उनकी फिल्‍म ‘जाने भी दो यारों’ को भारतीय सिनेमा की क्‍लासिक फिल्‍म माना जाता है। पहले फिल्‍में और फिर कई टीवी सीरियल बनाने के बाद कुंदन शाह ने सिनेमा से सात साल का ब्रेक लिया। शाह के निधन से बॉलीवुड में भी शोक का माहौल है। कई फिल्‍मी हस्तियों ने उनके निधन पर दुख जताया है।

उनका जन्‍म 19 अक्‍टूबर, 1947 को हुआ था। उन्‍होंने पुणे के फिल्‍म एंड टेलिविजन इंस्‍टिट्यूट से डायरेक्‍शन की पढ़ाई की थी और उनकी ज्‍यादातर फिल्‍में कॉमेडी जॉनर की थीं। उन्‍होंने ‘क्‍या कहना’ और ‘दिल है तुम्‍हारा’ जैसी फिल्‍में भी बनाई थीं। उनकी आखिरी फिल्‍म ‘पी से पीएम तक’ साल 2014 में रिलीज हुई थी।

Read More : https://khabar.ndtv.com/news/bollywood/kundan-shah-director-of-jaane-bhi-do-yaaro-passes-way-at-69-1759812

 

Related Post

श्रीलंका के खिलाफ दूसरे टेस्‍ट में भुवनेश्‍वर की जगह खेलेंगे विजय शंकर

Posted by - November 21, 2017 0
तमिलनाडु के ऑलराउंडर विजय शंकर को श्रीलंका के खिलाफ दूसरे टेस्ट मैच के लिए भारतीय टीम में शामिल किया गया।…

तीन तलाक पर मोदी सरकार का बड़ा फैसला, केंद्रीय कैबिनेट ने दी अध्यादेश को मंजूरी

Posted by - September 19, 2018 0
नई दिल्ली। केंद्र की नरेंद्र मोदी सरकार ने तीन तलाक बिल पर बड़ा फैसला लिया है। केंद्रीय कैबिनेट ने बुधवार (19…

प्रकाश जावड़ेकर ने किया साफ- BHU के नाम से न ‘हिंदू’ शब्द हटेगा, न AMU से ‘मुस्लिम’

Posted by - October 9, 2017 0
बनारस हिंदू यूनिवर्सिटी (BHU) से ‘हिंदू’ और अलीगढ़ मुस्लिम यूनिवर्सिटी (AMU) से ‘मुस्लिम’ शब्दों को हटाया जाना चाहिए क्योंकि ये…

Leave a comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *