सड़क दुर्घटना में बाल-बाल बचे संघ प्रमुख मोहन भागवत

39 0
  •   मथुरा जाते समय यमुना एक्सप्रेस-वे पर उनके काफिले की गाड़ियां आपस में भिड़ीं

राष्ट्रीय स्वयं सेवक संघ प्रमुख मोहन भागवत एक सड़क दुर्घटना में बाल-बाल बचे हैं। यह घटना यमुना एक्सप्रेस वे की है। मोहन भागवत का काफिला मथुरा के लिए जा रहा था कि तभी अचानक उनके काफिले की एक कारण टायर पंक्चर हो गया। टायर पंक्चर होने के बाद गाड़ी का संतुलन बिगड़ गया जिसके बाद पीछे से आ रही उनके काफिले की अन्य गाड़ियां आपस में टकरा गई। इस हादसे में मोहन भागवत को कोई चोट नहीं पहुंची है वे बिलकुल सुरक्षित हैं। हादसे के बाद मोहन भागवत के लिए दूसरी गाड़ी मंगाई गई जिसमें बैठकर वे मथुरा के लिए रवाना हो गए।

आरएसएस प्रमुख मोहन भागवत लगातार देश का दौरा कर रहे हैं। हाल ही में वह बंगाल गए थे, वहीं जल्द ही बिहार का दौरा करेंगे।  मंगलवार को उन्होंने विवादास्पद बयान दिया था। उन्होंने कहा कि, “हिन्दू और मुसलमान आपसी सहमति से भारत को श्रेष्ठ तो बना सकते हैं, लेकिन भारत को नंबर वन केवल हिंदुत्व ही बना सकता है। क्योंकि, असल में मुसलमान पहले हिन्दू थे पर बाद में वो मुसलमान बन गए।”

Read More: http://www.jansatta.com/rajya/uttar-pradesh/rss-head-mohan-bhagwat-car-accident-after-his-convoy-hits-each-other-at-yamuna-expressway-in-bjp-rule-state/450059/

Related Post

अमेरिका के बोस्टन में गैस पाइपलाइन में 70 से ज्‍यादा धमाके, खाली कराए तीन शहर

Posted by - September 15, 2018 0
वॉशिंगटन। अमेरिका के बोस्टन में नेचुरल गैस की पाइपलाइन में गुरुवार को हुए भीषण धमाकों में  39 इमारतों और घरों…

अगले महीने फिर यूपी में परखी जाएगी विधायकों की निष्ठा, विधान परिषद के हैं चुनाव

Posted by - March 26, 2018 0
लखनऊ। अंतरात्मा की आवाज सुनकर राज्यसभा चुनाव के दौरान बीजेपी उम्मीदवार को वोट देकर यूपी में तमाम विधायक चर्चा में…

पाक का एक और झूठ सामने, बैन के बाद भी चल रहे सईद के संगठन

Posted by - February 24, 2018 0
पाकिस्तान सरकार ने हाफिज सईद के संगठनों के साइनबोर्ड बदलकर दूसरी संस्‍था का बोर्ड लगाया लाहौर/रावलपिंडी। संयुक्त राष्ट्र द्वारा आतंकवादी गतिविधियों…

भ्रष्टाचार के विरुद्ध जारी रहेगी लड़ाई, मेरा कोई रिश्तेदार नहीं : मोदी

Posted by - September 25, 2017 0
प्रधानमंत्री बोले – चुनाव जीतना एकमात्र लक्ष्‍य नहीं, सत्‍ता सेवा के लिए न कि सुख के लिए नई दिल्ली। प्रधानमंत्री नरेंद्र…

Leave a comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *