हनीप्रीत

जांच में मदद नहीं कर रही हनीप्रीत, जल्‍द उठाएंगे अगला कदम : पुलिस कमिश्‍नर

43 0
  •   हनीप्रीत और सुखदीप को बठिंडा लेकर पहुंची पुलिस तो बोली हनीप्रीत – मुझे याद नहीं मैं यहां आई थी

चंडीगढ़: डेरा सच्चा सौदा प्रमुख गुरमीत राम रहीम की मुंहबोली बेटी हनीप्रीत इंसां और उसकी सहयोगी सुखदीप कौर को हरियाणा पुलिस गुरुवार को बठिंडा लेकर पहुंची। यहां पहले करीब आधा घंटे पुलिस स्टेशन में पूछताछ की गई। इसके बाद पुलिस हनीप्रीत को सुखदीप के उस में घर लेकर गई, जहां वह चार दिन तक रुकी थी। यहां उससे दो घंटे तक सवाल-जवाब किए गए। हनीप्रीत ने कहा, ”मुझे याद नहीं है कि मैं यहां आई थी या नहीं?” इस दौरान वह पसीना पोंछती रही और बार-बार पानी मांगती रही। 39 दिन से फरार हनीप्रीत मंगलवार को सुखदीप कौर के साथ अरेस्ट की गई थी। बुधवार को पंचकूला कोर्ट ने उसे 6 दिन की रिमांड पर भेज दिया था। जांच के बारे में पंचकूला के पुलिस कमिश्नर एएस चावला ने कहा कि हनीप्रीत जांच में उम्मीद के मुताबिक मदद नहीं कर रही है। अगर उसका रवैया ऐसा ही रहा तो हम कोर्ट से रिमांड बढ़ाने की दरख्वास्त करेंगे। एक और शख्स को हमने हिरासत में लिया है। उसने बताया है कि फरार रहने के दौरान हनीप्रीत कहां-कहां रुकी थी।

 इससे पहले, गुरुवार सुबह पुलिस हनीप्रीत और उसकी साथी सुखदीप को पंचकूला के सेक्टर-23 थाने से निकाल कर सेक्टर-20 ले गई। फिर उन्हें बस से बठिंडा ले जाया गया। यहां हनीप्रीत को देखने के लिए जगह-जगह भीड़ देखी गई। उधर, हरियाणा के सीएम मनोहर लाल खट्टर ने कहा- “जब हनीप्रीत गायब थी, तब कहीं ना कहीं पंजाब पुलिस को पता था।”

Related Post

भाजपा नेता ने राहुल को बताया ‘बाबर भक्त’ और ‘खिलजी का रिश्‍तेदार’

Posted by - December 6, 2017 0
कांग्रेस का पलटवार, कहा – जीवीएल नरसिम्‍हा को अपने दिमाग का इलाज करवाना चाहिए गुजरात चुनाव के इतर राम मंदिर…

सोनिया को उम्मीद, ‘इंडिया शाइनिंग’ की तरह ‘अच्छे दिन’ का नारा बीजेपी को डुबोएगा

Posted by - March 10, 2018 0
नई दिल्ली। कांग्रेस की पूर्व अध्यक्ष सोनिया गांधी को ये उम्मीद है कि 2019 में बीजेपी को ‘अच्छे दिन’ का नारा उसी…

वैज्ञानिकों का दावा, स्तन कैंसर के इलाज में मददगार है नीम

Posted by - July 27, 2018 0
हैदराबाद के राष्ट्रीय औषधीय शिक्षा एवं अनुसंधान संस्थान (NIPER) के वैज्ञानिकों ने किया शोध हैदराबाद। वैज्ञानिकों ने दावा किया है कि…

Leave a comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *