जम्‍मू-कश्‍मीर में घुसपैठ की दो कोशिशें नाकाम, 5 आतंकी ढेर

95 0
  • सेना ने कहा – सीमा पार स्थित लॉन्चिंग पैड्स पर 60-70 आतंकी घुसपैठ के लिए हैं तैयार

श्रीनगर। सर्दियों की शुरुआत से पहले सीमा पार स्थित लॉन्चिंग पैड्स पर बैठे आतंकियों ने जम्मू-कश्मीर में घुसपैठ की कोशिशें तेज कर दी हैं, हालांकि सीमा पर तैयार भारतीय सैनिक उनके नापाक मंसूबों को कामयाब नहीं होने दे रहे हैं। सोमवार को सेना ने तंगधार और रामपुर सेक्टर में घुसपैठ की दो कोशिशों को नाकाम करते हुए 5 आतंकियों को मार गिराया। इनके पास से भारी मात्रा में हथियार बरामद किए गए हैं और सेना का सर्च ऑपरेशन जारी है।

गौरतलब है कि पिछले दिनों थल सेना प्रमुख जनरल बिपिन रावत ने कहा था कि सीमा पार से आने वाले आतंकियों को हम ढाई फुट जमीन के नीचे भेजते रहेंगे। रिपोर्ट के अनुसार, तंगधार जिले में सीमा पार से आतंकियों के एक समूह ने घुसपैठ की कोशिश की, लेकिन भारतीय सैनिकों ने उनके प्रयास को विफल कर दिया। सेना की गोलीबारी में तीन आतंकी ढेर हो गए। इनके हथियार भी बरामद कर लिए गए हैं। सेना इलाके में सर्च ऑपरेशन चला रही है। कुछ और आतंकी यहां छुपे हो सकते हैं।

इससे पहले सेना ने बारामुला जिले के रामपुर सेक्टर में घुसपैठ की एक कोशिश को विफल करते हुए दो आतंकियों को मार गिराया था। इस बीच सेना ने कहा है कि 5 दर्जन से अधिक आतंकी लॉन्चिंग पैड्स पर तैयार बैठे हैं। मेजर जनरल आरपी कलिता ने कहा, ‘सीमा पार स्थित लॉन्चिंग पैड्स पर 60-70 आतंकी घुसपैठ के लिए तैयार हैं। ये आतंकी गुलमर्ग से नौगाम तक बारामुला के 19 डिविजन से घुसपैठ की तैयारी में हैं।’

ग्रेनेड से हमला, सीमा पर फायरिंग
बारामुला के जुहामा इलाके में पुलिस/सेना के जॉइंट नाका पार्टी पर ग्रेनेड से हमला किया गया, जिसमें पुलिस के 2 जवान घायल हुए हैं। उधर, राजौरी सेक्टर में स्थित भारत पाक सीमा के निकट स्निपर फायरिंग की घटना में सीमा सुरक्षा बल के जवान एस. रामाचारी घायल हो गए, जिन्हें अस्पताल में भर्ती कराया गया है।

Read More : http://navbharattimes.indiatimes.com/state/jammu-and-kashmir/srinagar/infiltration-bids-foiled-4-terrorists-killed-in-tangdhar-and-baramulla/articleshow/60913820.cms

Related Post

धरती के लिए अच्छी खबर, पराबैंगनी किरणों से बचाने वाली ओजोन परत हुई दुरुस्त

Posted by - November 6, 2018 0
वॉशिंगटन। धरती के लिए अच्छी खबर है। संयुक्त राष्ट्र की नई रिपोर्ट में बताया गया है कि पराबैंगनी किरणों से…

Leave a comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *