गुजरात चुनाव में सभी केंद्रों पर होगा वीवीपीएटी का इस्तेमाल

16 0

अहमदाबाद । गुजरात विधानसभा चुनाव से देश में पहली बार सभी मतदान केंद्रों पर इलेक्ट्रॉनिक वोटिंग मशीन (ईवीएम) के साथ वोटर वेरिफाइड पेपर ऑडिट ट्रेल (वीवीपीएटी) का उपयोग होगा। मतदाता अपना मत देने के बाद सात सेकंड तक वीवीपीएट के डिस्प्ले पर पर्ची को देख सकेगा। बाद में यह पर्ची बॉक्स में गिर जाएगी। गुजरात के मुख्य चुनाव अधिकारी बीबी स्वेन ने गुरवार को वीवीपीएटी के प्रथम डेमो के लिए गांधीनगर में पत्रकार वार्ता का आयोजन किया।

उन्होंने बताया कि मतदाता जैसे ही मतदान करेगा एक बीप की आवाज आएगी उसके साथ ही वीवीपीएटी के डिस्प्ले पर स्लिप नजर आएगी, उस पर मतदाता ने जिस उम्मीदवार, राजनीतिक पार्टी अथवा नोटा को मत दिया होगा उसका चिह्न छपा होगा। जिससे मतदाता को पता चल सकेगा कि उसने जिसको वोट दिया है उसका वोट उसी को मिला है। दरअसल, ईवीएम में छेड़छाड़ अथवा सॉफ्टवेयर के जरिए मतों में हेरफेर की कई राजनीतिक दलों और स्वयंसेवी संगठनों ने शिकायत की थी।

इसी दौरान पाटीदार आरक्षण आंदोलन से जु़़डी रेशमा पटेल ने सुप्रीम कोर्ट में याचिका दाखिल कर विधानसभा चुनावों में वीवीपीएटी अथवा बैलट पेपर के उपयोग की मांग की। शीषर्ष अदालत के आदेश के बाद अब चुनाव आयोग ने इसकी पूरी तैयारी कर ली है। आयोग ने शुक्रवार को कांग्रेस व भाजपा सहित छह राष्ट्रीय दलों को भी डेमो के लिए बुलाया है। इसके बाद गांवों व शहरों में इसके लिए जागरकता अभियान चलाया जाएगा।

Read More:http://www.jagran.com/news/national-vvpat-will-be-used-at-all-centers-in-gujarat-elections-16786839.html

Related Post

हनीप्रीत से मिलने जेल पहुंचा परिवार, पुलिस ने दिया वीआईपी ट्रीटमेंट

Posted by - October 27, 2017 0
मामले के तूल पकड़ने पर जेल मंत्री ने जांच के आदेश दिए, सीसीटीवी फुटेज के आधार पर होगी जांच अंबाला। सेंट्रल…

पुलवामा सीआरपीएफ कैम्प पर फिदायीन हमला, तीन कैप्टन समेत 5 शहीद

Posted by - December 31, 2017 0
जैश-ए-मोहम्मद ने ली हमले की जिम्‍मेदारी, सुरक्षाबलों ने मुठभेड़ में तीन आतंकियों को ढेर किया श्रीनगर। जम्मू कश्मीर के पुलवामा…

चीन ने अरुणाचल में फिर की घुसपैठ, टाटू में बनाए घर और टेली कम्युनिकेशन टॉवर

Posted by - March 31, 2018 0
नई दिल्ली। अरुणाचल प्रदेश भारत का अभिन्न हिस्सा है, लेकिन चीन अक्‍सर अरुणाचल प्रदेश पर अपना हक जमाने की कोशिश…

Leave a comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *