सहकर्मी से रेप मामले में तरुण तेजपाल के खिलाफ आरोप तय

37 0

तहलका के संस्थापक पत्रकार तरुण तेजपाल के खिलाफ यौन उत्पीड़न के मामले में गोवा की अदालत ने आरोप तय कर दिए हैं. कोर्ट के इस फैसले ने तरुण की मुश्किलें बढ़ा दी हैं. अपनी कलम और खुफिया कैमरे के इस्तेमाल से तरुण ने पूरे देश में तहलका मचाया. बड़े-बड़े खुलासे कर सत्ता के गलियारों में सनसनी फैलाई. उनकी ऐसी पहचान बनी कि लोग आंख मूंदकर उन पर भरोसा करने लगे. लेकिन बरसों की कमाई, नाम और शोहरत को बस एक कदम ने बर्बाद कर दिया. अपनी ही टीम की महिला पत्रकार के साथ यौन शोषण के आरोप में घिरे तरुण तेजपाल का अब कानून से बचना नामुमकिन हो गया है.

7 नवंबर, 2013, शनिवार को गोवा के एक फाइव स्टार होटल में तहलका का थिंक फेस्ट चल रहा था. तहलका के एडिटर इन चीफ और जाने-माने पत्रकार तरुण तेजपाल समेत दुनिया के कई मशहूर चेहरे इस फेस्ट का हिस्सा थे. और इन्हीं नामचीन चेहरों के बीच एक चेहरा उस गुमनाम लड़की का भी था, जो आई तो थी इस फेस्ट में अपनी ड्यूटी निभाने, लेकिन इससे पहले की वो अपना फर्ज अदा कर यहां से लौटती, वो खुद अपने ही बॉस तरुण तेजपाल के नापाक इरादों का शिकार बन गई.

लड़की की मानें तो तेजपाल ने उसके साथ एक नहीं, बल्कि दो-दो बार ज्यादती की और मुंह खोलने पर बुरे अंजाम की धमकी भी दी. तहलका की मैनेजिंग एडिटर शोमा चौधरी से की गई शिकायत के बाद जब इस लड़की ने गोवा पुलिस को अपने साथ बीती पूरी कहानी बताई, तो सुनने वाले बस सुनते ही रह गए. क्योंकि ये तेजपाल का वो चेहरा था, जो अब तक किसी ने नहीं देखा था.

Read More:http://aajtak.intoday.in/crime/story/tarun-tejpal-lost-all-sexual-harassment-charges-framed-against-1-955147.html

Related Post

महराजगंज में गेहूं घोटाले का खुलासा, पकड़ा फर्जी क्रय केंद्र, संचालक हिरासत में

Posted by - May 25, 2018 0
माता फूड्स राइस मिल से छापे में बरामद हुआ 1054 बोरी सरकारी गेहूं, क्रय केंद्र की रसीदें भी मिलीं डीएम…

असम के बाद अब झारखंड और यूपी में पाक और बांग्लादेशी घुसपैठियों की होगी पहचान

Posted by - August 13, 2018 0
रांची/मेरठ। असम में राष्ट्रीय नागरिकता रजिस्टर यानी एनआरसी बनने और 40 लाख लोगों के इस रजिस्टर में शामिल न होने…

Leave a comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *