बहराइच से नेपाल जाने वाली ट्रेन का इंजन पटरी से उतरा

443 0
  • करीब ढाई घंटे बाद रवाना हो सकी गोंडा-नेपालगंज पैसेंजर, सैकड़ों यात्री हुए परेशान

देवमणि मिश्र

बहराइच। यूपी में आए दिन ट्रेनों के पटरी से उतरने की घटनाएं सामने आ रही हैं। बीते एक माह में ट्रेनों और मालगाड़ियों के डिब्बे पटरी से उतरने के कई हादसे हो चुके हैं, फिर भी जिम्मेदारों की नींद नहीं खुल रही है। ताजा मामला बहराइच जिले का है। मंगलवार को यहां शंटिंग के दौरान पैडमैन की लापरवाही के चलते बहराइच से नेपाल जाने वाली पैसेंजर ट्रेन का इंजन पटरी से नीचे उतर गया। हालांकि हादसे में कोई घायल नहीं हुआ है।

पटरी से उतरे गोंडा-नेपालगंज पैसेंजर के इंजन को पटरी पर चढ़ाने की कोशिश में जुटे रेल कर्मचारी

बता दें कि इस समय बहराइच-गोंडा रेलवे प्रखण्ड पर मीटरगेज पटरियों को ब्रॉडगेज में बदलने का काम चल रहा है। इस कारण नेपालगंज व मैलानी स्टेशन जाने वाली ट्रेनों का संचालन बहराइच स्टेशन से किया जा रहा है। मंगलवार रात तय समय 8:45 बजे से करीब एक घण्टे देरी से गोंडा-नेपालगंज पैसेंजर नेपालगंज जाने को तैयार थी। प्लेटफार्म नम्बर एक से शंटिंग की जा रही थी, इसी दौरान अचानक इंजन के पहिये पटरी से उतर गए। सूचना मिलते ही रेलवे अधिकारियों में अफरातफरी मच गई। आनन-फानन में लोग मौके पर पहुंचे। ब्रेक डाउन टीम को भी बुला लिया गया। इंजन को पटरी पर लाने की तमाम कोशिश की गई, लेकिन सफलता नहीं मिली।

उधर, नेपालगंज जाने के लिए ट्रेन में बैठे यात्री गर्मी में इंतजार करते परेशान हो गए। आखिरकार करीब 11 बजे दूसरा इंजन मंगाया गया और यात्रियों को उनके गंतव्य के लिए रवाना किया गया। रात को करीब 12 बजे के बाद इंजन को पटरी पर चढ़ाया जा सका। स्टेशन अधीक्षक ने बताया कि पटरी बदलते समय पॉइंट्स मैन ने पिन नहीं लगाया था। कर्मियों को लगाकर पटरियों की मरम्मत कराई गई है। पूरे घटनाक्रम की रिपोर्ट तैयार हो रही है, जिसे मुख्यालय भेजा जाएगा।

Related Post

शिकागो में बोले भागवत – हजारों साल से प्रताड़ित हो रहे हिन्दू, एकजुट होना जरूरी

Posted by - September 8, 2018 0
शिकागो। राष्ट्रीय स्वयं सेवक संघ के प्रमुख मोहन भागवत ने हिन्‍दू समुदाय से एकजुट होने का आह्वान किया है। उन्होंने…

लेबनान में ब्रिटेन की महिला डिप्लोमैट की रेप के बाद हत्या

Posted by - December 18, 2017 0
सड़क के किनारे मिला शव, जनवरी 2017 से बेरूत में अंतरराष्ट्रीय विकास विभाग में थीं तैनात बेरूत। लेबनान की राजधानी बेरूत…

Leave a comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *