• उसके खिलाफ हत्या, फिरौती और आतंकवादी गतिविधियों में शामिल होने का भी आरोप

मुंबई। 1993 में मुंबई में हुए बम धमाकों के आरोपी और दाऊद इब्राहिम के खास फारूक टकला को दुबई ने भारत के हवाले कर दिया है। फारूक टकला मुंबई में हुए बम धमाकों के बाद फरार हो गया था। टकला के खिलाफ 1995 में सीबीआई ने रेड कॉर्नर नोटिस जारी किया था।

कौन है फारूक टकला ?
फारूक टकला अंतरराष्ट्रीय आतंकवादी करार दिए गए दाऊद इब्राहिम का करीबी है। उसके खिलाफ हत्या, फिरौती और आतंकवादी गतिविधियों में शामिल होने का भी आरोप है। फारूक को गुरुवार (8 मार्च) सुबह एयर इंडिया की फ्लाइट से सीबीआई दुबई से मुंबई लेकर आई। जांच एजेंसी को टकला से मुंबई बम कांड और दाऊद के बारे में काफी जानकारियां मिलने की उम्मीद है।

जब सुनवाई के दौरान जज ने मांगा दाऊद इब्राहिम का फोन नंबर

दाऊद भी करना चाहता है सरेंडर
बता दें कि दाऊद इब्राहिम के वकील ने भी कोर्ट में कहा था कि उनका मुवक्किल सरेंडर करना चाहता है, लेकिन दाऊद की शर्त है कि उसे मुंबई की आर्थर रोड जेल में ही रखा जाए। इस पर मुंबई बम धमाकों पर विशेष सरकारी वकील उज्ज्वल निकम ने कहा था कि दाऊद कई बार पहले भी इस तरह की बातें अपने वकील के जरिए कह चुका है, लेकिन भिखारियों के पास च्वॉइस नहीं होती। वहीं, कोर्ट ने दाऊद के वकील से कहा है कि अगर आरोपी उनसे फोन के जरिए संपर्क में है, तो उसका नंबर कोर्ट को दें।