Breaking News

बिहार कांग्रेस में टूट, अशोक चौधरी समेत चार एमएलसी जदयू के साथ

1 0
  • राज्यसभा चुनाव के पहले बिहार की सियासत में बड़ा उलटफेर

पटना। बिहार की सियासत में बुधवार का दिन सियासी बवंडर के नाम रहा। पहले जीतन राम मांझी ने एनडीए छोड़ने का ऐलान किया फिर कांग्रेस के वरिष्ठ नेता अशोक चौधरी के नेतृत्व में 4 नेताओं ने जेडीयू ज्वाइन करने का ऐलान कर दिया। ये चारों नेता कांग्रेस के एमएलसी हैं। यानी बिहार की सियासत में होली के पहले बड़ा उलटफेर देखने को मिला। उपचुनाव और राज्यसभा चुनाव के पहले जिस तरह की जोड़तोड़ की सियासत शुरू हुई है, वह आने वाले दिनों में कई और रंग दिखा सकती है।

अशोक चौधरी के साथ जिन और नेताओं ने कांग्रेस छोड़ी है, उनके नाम हैं दिलीप चौधरी, रामचंद्र भारती और तनवीर अख्तर। ये लोग जेडीयू में शामिल होंगे। अशोक चौधरी कांग्रेस के कद्दावर नेता रहे हैं। करीब 2 दशक तक कांग्रेस से जुड़े रहे। इनके पिता महावीर चौधरी कांग्रेस के बड़े नेता थे। अशोक चौधरी ने साफ किया कि उन्हें बार-बार पार्टी में अपमानित किया गया। पूर्व कांग्रेस अध्यक्ष अशोक चौधरी ने पार्टी अध्यक्ष कौकब कादरी पर निशाना साधा और कहा कि उन्हें किसी पद का लालच नहीं है। उन्‍होंने अपनी अंतरात्मा की आवाज सुनी और पार्टी छोड़ने का फैसला किया। उधर, जैसे ही चौधरी गुट का यह फैसला सार्वजनिक हुआ, बिहार कांग्रेस के प्रभारी अध्यक्ष कौकब कादरी ने चारों नेताओं अशोक चौधरी, दिलीप चौधरी, रामचंद्र भारती और तनवीर अख्तर को पार्टी से निष्कासित कर दिया।

डॉ. चौधरी ने कहा, ‘मैंने अध्यक्ष पद संभालने के बाद बिहार में कांग्रेस को खड़ा किया। विधान परिषद में कांग्रेस के छह सदस्य बने। चार विधायक वाली पार्टी को 27 विधायक तक पहुंचाया, पर मेरे साथ क्या हुआ किसी से छिपा नहीं है। बेइज्जती के बाद कांग्रेस छोडऩे के सिवा मेरे पास दूसरा विकल्प नहीं था।’ डॉ. चौधरी ने कहा नीतीश कुमार पर भ्रष्टाचार का कोई आरोप नहीं और न ही वे जाति की राजनीति में विश्वास करते हैं। उनका ध्येय राज्य का विकास करना है। इस वक्त उनके जैसा दूसरा कोई राजनेता नहीं। उन्होंने कहा जदयू में जाने के पीछे पद जैसी कोई लालसा मेरी नहीं है। पार्टी मुझे जो दायित्व सौंपेगी उसका मैं निर्वहन करूंगा।  (एजेंसी)

Related Post

एक और भारत बंद से गृह मंत्रालय सतर्क, राज्यों को एडवाइजरी जारी

Posted by - अप्रैल 9, 2018 0
नौकरियों और शिक्षा में जाति आधारित आरक्षण के खिलाफ मंगलवार को भारत बंद का आह्वान गृह मंत्रालय ने राज्यों को…

अब मोबाइल पेमेंट का बदलेगा तरीका, आपकी आवाज से होगा ट्रांजैक्‍शन

Posted by - अक्टूबर 29, 2017 0
नई दिल्ली। आने वाले वर्षों में मोबाइल पेमेंट और सरल होने वाला है। मोबाइल पेमेंट फोरम ऑफ इंडिया (एमपीएफआई) यूजर फ्रेंडली…

परमाणु हथियारों के खात्मे की कोशिशों के लिए आईकैन को नोबेल शांति पुरस्कार

Posted by - अक्टूबर 6, 2017 0
इस साल का नोबेल शांति पुरस्कार परमाणु हथियारों के ख़ात्मे के लिए काम करने वाली अंतरराष्ट्रीय संस्था ‘इंटरनेशनल कैम्पेन टू…

Leave a comment

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा. आवश्यक फ़ील्ड चिह्नित हैं *