बॉलीवुड की जानी-मानी एक्ट्रेस नरगिस रबाड़ी का लंबी बीमारी के बाद निधन हो गया। वे इंडस्ट्री में शम्मी आंटी के नाम से मशहूर थीं। उनका जन्म  1931 में मुंबई में हुआ था। नरगिस ने करीब 200 से ज्यादा फिल्मों में काम किया था। इतनी फेमस एक्ट्रेस होने के बावजूद नरगिस बहुत ही सिंपल और शांत स्वाभाव की थीं। नरगिस ने बड़े पर्दे से लेकर छोटे पर्दे तक अपनी एक अलग पहचान बनाई।

फिल्म इंडस्ट्री में नरगिस को हर कोई शम्मी आंटी के नाम से जनता है लेकिन क्या आप जानते हैं कि उनका यह नाम कैसे पड़ा ? दरअसल एक इंटरव्यू में नरगिस ने बताया था कि बॉलीवुड में नरगिस जी उस समय बहुत फेमस एक्ट्रेस थीं, इसलिए फिल्म डायरेक्टर तारा हरीश ने मुझे नया नाम ‘शम्मी आंटी’ दिया, जो फ़िल्म ‘मल्हार’ के मेरे कैरेक्टर का नाम था।

शम्मी आंटी ने फिल्म इंडस्ट्री के कई बड़े स्टार के साथ काम किया। साल  1952 में दिलीप कुमार और मधुबाला के साथ उन्‍होंने फिल्‍म ‘संगदिल’ में सपोर्टिंग एक्‍टर के रूप में काम किया था। शम्मी आंटी ने ‘बाग़ी’, ‘आग का दरिया’, ‘मुन्ना’, ‘रुखसाना’, ‘पहली झलक’, ‘लगन’, ‘बंदिश’, ‘मुसाफ़िरखाना’, ‘आज़ाद’ और ‘दिल अपना और प्रीत पराई’ जैसी कई फ़िल्मों में अहम  भूमिका निभाई। उनकी आखिरी फिल्म ‘शीरी फ़रहाद की तो निकल पड़ी’ थी।

अमिताभ बच्चन ने जताया दुख

https://platform.twitter.com/widgets.js
बॉलीवुड के महानायक अमिताभ बच्चन समेत बॉलीवुड की कई हस्त्यिों ने शम्मी आंटी के निधन पर सोशल मीडिया पर दुख जताया है। बिग बी ने ट्वीट कर लिखा – ‘शम्मी आंटी बेहतरीन एक्ट्रेस, फैमिली फ्रेंड थीं जिन्होंने कई साल फिल्मों के लिए काफी कुछ दिया। लंबी बीमारी के बाद चल बसीं। दुखद, धीरे-धीरे सब जा रहे हैं।’

https://platform.twitter.com/widgets.js

https://platform.twitter.com/widgets.js