• चेन्नै के पेरियार नगर में शरारती तत्‍वों ने बाबा साहब भीमराव अंबेडकर की मूर्ति को नुकसान पहुंचाया

तिरुवनंतपुरम/नई दिल्ली त्रिपुरा में लेनिन, पश्चिम बंगाल में श्यामा प्रसाद मुखर्जी, तमिलनाडु में पेरियार और मेरठ में अंबेडकर की प्रतिमा को नुकसान पहुंचाने के बाद भी ऐसी घटनाएं रुकने का नाम नहीं ले रही हैं। गुरुवार को केरल के कन्नूर में महात्मा गांधी की प्रतिमा को अज्ञात लोगों द्वारा नुकसान पहुंचाने का मामला सामने आया है। हालांकि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने प्रतिमाएं तोड़े जाने की कड़ी निंदा की और ऐसा करने वालों के विरुद्ध कठोर कार्रवाई की चेतावनी दी, इसके बाद भी ऐसी घटनाओं पर लगाम नहीं लग पा रही है।

ताजा घटनाक्रम में केरल के कन्‍नूर में गुरुवार को शरारती तत्‍वों ने राष्‍ट्रपिता महात्‍मा गांधी की प्रतिमा का चश्मा तोड़ दिया। अभी यह साफ नहीं है कि ऐसा किसने और क्यों किया है। इसके अलावा तमिलनाडु में भी बाबा साहब भीमराव अंबेडकर की मूर्ति पर हमले की बात सामने आई है। यहां चेन्नै के पेरियार नगर में कुछ शरारती तत्व अंबेडकर की प्रतिमा पर पेंट फेंककर भाग निकले।  मूर्ति तोड़ने की घटनाओं की वजह से तमिलनाडु में पहले से ही तनाव की स्थिति है। मंगलवार को यहां द्रविड़ आंदोलन शुरू करने वाले पेरियार की मूर्ति को नुकसान पहुंचाया गया था, जिसके बाद भाजपा दफ्तर पर बम फेंकने की घटना हुई थी।

पीएम मोदी और अमित शाह का रुख सख्त, मूर्तियां तोड़ने वालों पर होगी कड़ी कार्रवाई

मुखर्जी की प्रतिमा तोड़ने में 7 लोग गिरफ्तार

पिछले दो तीन दिन से प्रतिमाओं को नुकसान पहुंचाये जाने को लेकर जारी राजनीतिक विवाद के बीच बुधवार को दक्षिण कोलकाता में वामपंथी संगठन रैडिकल के कार्यकर्ताओं ने श्‍यामा प्रसाद मुखर्जी की आवक्ष मूर्ति के साथ तोड़फोड़ की थी। यह घटना त्रिपुरा में लेनिन की प्रतिमाएं तोड़े जाने के बाद हुई। कोलकाता के पुलिस आयुक्त ने बताया कि मुखर्जी की आवक्ष मूर्ति तोड़ने में शामिल सभी 7 लोग गिरफ्तार कर लिए गए हैं, इनमें एक महिला है।

मेरठ में अंबेडकर की नई प्रतिमा लगी
उत्तर प्रदेश के मेरठ में अज्ञात व्यक्तियों ने बीआर अंबेडकर की मूर्ति को नुकसान पहुंचाया था, जिसका दलितों ने काफी विरोध किया। इस घटना के बाद वहां स्थिति काफी तनावपूर्ण हो गई थी। जिला प्रशासन द्वारा अंबेडकर की नई प्रतिमा लगाने के बाद मवाना में विरोध प्रदर्शन वापस लिया गया।